drishti haldwani

हल्द्वानी-अपने हुनर से दुनियां भर में छाये पिथौरागढ़ के पानू बद्रर्स, यू-ट्यूब से ऐसे कर रहे लाखों की कमाई

4405

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क-(जीवन राज)- पिथौरागढ़ के पानू बद्रर्स ने दुनियां भर में उत्तराखंड का नाम रोशन कर दिया। पिथौरागढ़ जिले के स्याल्बे तहसील डीडीहाट में एक गरीब परिवार में जन्मे अनिल सिंह पानू और भूपेन्द्र सिंह पानू ने आज पिथौरागढ़ ही नहीं उत्तराखंड का नाम पूरी दुनियां की जुबां पर ला दिया। आज हर कोई उनकी कॉमेडी का फैन है। यू-ट्यूब पर अपनी कॉमेडी से दोनों भाई छाये हुए है। दोनों भाई यू-ट्यूब से लाखों रुपये महीने की कमाई कर रहे है। दोनों भाईयों ने अपने अलग-अलग चैनल बनाये है। इसी में वह कॉमेडी वीडियो बनाकर डालते है। दोनों भाई इस समय दिल्ली में रहकर यह कार्य कर रहे है। उनके इस हुनर ने उन्हें गरीबी से उबार दिया है। जिसकी बदौलत जेएमएस आर्टस की दो वीडियो पूरे भारत में 5 दिन तक नंबर वन की ट्रैंडिग में रही। उनके यू-ट्यूबर बनने की बड़ी दिलचस्प कहानी है। आइये जानते है कैसे इन दोनों भाइयों ने यू-ट्यूब की दुनियां में कदम रखा।

iimt haldwani

अनिल के चैनल को मिले 22 करोड़ से ऊपर व्यूज

न्यूज टुडे नेटवर्क से खास बातचीत में अनिल सिंह पानू ने बताया कि वह पिथौरागढ़ के दूरस्थ्य क्षेत्र के रहने वाले है। वर्तमान में दिल्ली में रह रहे है। उन्होंने बताया कि पंजाब की यू-ट्यूबर लीली सिंह को देखकर उनके मन भी यू-ट्यूब में काम करने का विचार आया। इसके बाद उन्होंने दिसम्बर 2016 में यू-ट्यूब पर जेएमएस आर्टस (जय मलयनाथ स्वामी) नाम से एक चैनल बनाया। लेकिन शुरूआत में सफलता उनके हाथ नहीं लगी। इसके बाद उन्होंने कॉमेडी वीडियो की तरह रूख किया तो उनकी गाड़ी चल पड़ी। यू-ट्यूब से उनकी पहली कमाई आयी तो वह खुशी से मारे उछल पड़े। इसके बाद उनके सब्सक्राइबरों की संख्या बढ़ती चली गई। आज उनके 6 लाख 11 हजार सब्सक्राइबर है। वह उत्तराखंड के पहले यू-ट्यूबर बने जिन्हें सिल्वर बटन मिला। अभी तक उनके चैनल को 22 करोड़ से ऊपर व्यूज मिले है। उनका एक वीडियो 1 करोड़ 97 हजार लोगों ने देखा है। आज उनकी महीने की कमाई लाखों में है। अनिल की टीम में गुड्डू, प्रिंस दुबे, धीरज राजपूत, सदरे आलम, रोशन झा, प्रकाश पंत शामिल है।

गुस्से ने बनाया छोटे भाई को भी यू-ट्यूबर

अनिल ने बताया कि उनके छोटे भाई भूपेन्द्र सिंह पानू का रॉयल पानू नाम से यू-ट्यूब में चैनल है। जिसके 4 लाख 56 हजार सब्सक्राइबर है। वो भी कॉमेडी की वीडियो बनाकर अपने चैनल में डालते है। रॉयल पानू की कमाई भी आज लाखों में है। दोनों भाइयों को आज पूरी दुनियां जानती है। भारत के अलावा कुवैत, कतर, मलेशिया, ओमान और बहरीन जैसे देशों में दोनों भाइयों के चैनल काफी लोकप्रिय है। रॉयल पानू के चैनल को अभी तक 15 करोड़ 14 लाख 83 हजार से ऊपर व्यूज मिले है। जबकि उनके एक वीडियो को 4 करोड़ 47 लाख लोगों ने देखा है व इस मामले में अपने भाई अनिल से आगे चले गये। अनिल ने बताया कि एक दिन उनके छोटे भाई भूपेन्द्र सिंह पानू ने उनसे पैसे मांगे लेकिन उन्होंने नहीं दिये जिसके बाद गुस्से में आकर भूपेन्द्र ने यू-ट्यूब पर अपना चैनल बना लिया। इसके बाद वह लगातार आगे बढ़ते रहे और सिल्वर बटन भी हासिल कर लिया। रॉयल पानू ने अपना चैनल 2018 में बनाया।

दोनों भाईयों की नजर पर गोल्ड बटन पर

अनिल पानू ने बताया कि दोनों भाईयों के यू-ट्यूब सब्सक्राइबर करीब 10 लाख 60 हजार से ऊपर है। अब दोनों भाइयों की नजर यू-ट्यूब से मिलने वाले गोल्डन बटन पर है इसके लिए दोनों भाई काफी मेहनत कर रहे है। घर में खेतीबाड़ी कर रहे माता-पिता को भी उन्होंने दिल्ली में अपने साथ रख लिया है। उत्तराखंड में पानू बद्रर्स मात्र दो ऐसे यू-ट्यूबर है जिन्हें एक ही घर में दो सिल्वर बटन मिले है। आज पिथौरागढ़ के इन दोनों भाइयों ने दुनियां को दिखा दिया है इंसान के पास हुनर हो तो वह गरीबी से लड़ सकता है। अपनी लगन और मेहनत की बदौलत पानू बद्रर्स ने आज दुनियां में अपना झंडा गांड दिया।

लोगों की मदद को हर संभव तैयार रहते है अनिल

पहाड़ से बेहद प्यार करने वाले पानू बद्रर्र्स हर समय पहाड़ के लिए कुछ न कुछ करते रहते है। चाहे वह वीडियो के माध्यम से हो या फिर किसी अन्य माध्यम से। पहाड़ की संस्कृति को आगे बढ़ाने में पानू बद्रर्स का अहम योगदान है। अनिल पानू ने बताया कि यू-ट्यूब संबंधी किसी भी जानकारी के लिए लोग उनसे बेझिझक पूछ सकते है। इसके लिए कोई शुल्क नहीं है। वह चाहते है कि उनकी तरह लोग भी आगे बढ़े और अपने माता-पिता का नाम रोशन करें। उन्होंने उत्तराखंड के अमर लोकगायक स्व. पप्पू कार्की, माया उपाध्याय, जितेन्द्र तोमक्याल, बेबी प्रियंका, सागर सिलोड़ी, संजय सिलौड़ी, रमेश मोहन पाण्डेय, खुशी जोशी दिगारी, ललित खड़ायत, मंगल सिंह चौहान व जीवन दानू और बसंत तिवारी समेत कई लोगों के यू-ट्यूब चैनल बनाये। साथ ही कई बड़े कलाकार उनसे राय लेते रहते है। यह सब करना उन्हें अच्छा लगता है।