हल्द्वानी-डीएम साहब ऐसे हो रहा मजदूरों की रोजी-रोटी से खिलावाड़, कांग्रेस नेता सुमित हृदयेश ने कही ये बड़ी बात

Slider

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- गौला नदी में खनन कारोबार से जुड़े संगठनों और कारोबारियों के शिष्टमंडल ने कांग्रेस नेता सुमित हृदयेश के नेतृत्व में जिलाधिकारी विनोद कुमार से मुलाकात कर सद्भाव कंपनी के नाम से गोला नदी में खनन के लिए एक अतिरिक्त गेट खोले जाने को लेकर विरोध व्यक्त किया। गौला संघर्ष समिति एवं डंपर एसोसिएशन और गौला मजदूर एवं जन कल्याण समिति ने संयुक्त रूप से इस मामले मे विरोध स्वरूप अपना विरोध पत्र जिलाधिकारी को सौंपा। कांग्रेस नेता सुमित हृदयेश ने कहा कि सद्भाव कंपनी के नाम से आपसी सदभाव से बीजेपी सरकार द्वारा किया जा रहा है खनन का काला कारोबार और खनन कारोबार से जुड़े हजारों लोगों की रोजी-रोटी के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। जिस क्षेत्र मे गेट खोलने की हो रही तैयारी उक्त क्षेत्र में खनन से गौला पुल के साथ हल्द्वानी रेलवे स्टेशन सहित अंतराष्ट्रीय स्टेडियम खतरा को होगा।

Slider

नया गेट बंद करने की मांग

पूर्व में भी खनन के कारण गौला पुल धराशायी हो चुका है। राष्ट्र हित में खनन कारोबारी सद्भाव कंपनी को खनन सामग्री देने को है तैयार तो क्यों सरकार इस प्रकार से नया गेट खोल कर खनन कारोबार को बर्बाद करना चाह रही। आखिर बीजेपी सरकार क्यों और किसके लिए करना यह जनविरोधी कार्य चाहती है।

इस दौरान ज्ञापन देने वालों में राजेन्द्र बिष्ट, पम्मी सैफी, हरेन्द्र बोरा, पृथ्वी पाठक, तारा नेगी, हेम दुर्गापाल, मलय बिष्ट, अरशद अयूब, मो. इरफान, खीमानंद पांडे, सरदार सतनाम, राशिद, पिंटू मेहरा, राजेश बिष्ट, राजकुमार यादव, बलबीर रावत, कमलेश बोरा, सुरेंद्र भंडारी, हरीश सिंह, मयंक भट्ट, जितेन्द्र बोरा मुख्य रूप से मौजूद थे।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें