drishti haldwani

हल्द्वानी-दिल्ली पब्लिक स्कूल में लगी वार्षिक प्रदर्शनी, धरोहर में पंजाब की संस्कृति का भव्य प्रदर्शन

136

हल्द्वानी-रामपुर रोड स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल में पंजाब की समृद्ध और जीवंत संस्कृति और विरासत की वार्षिक प्रदर्शनी आयोजित की गई। इस अवसर पर कार्यक्रमों का आरम्भ मुख्य अतिथि सीईओ आम्रपाली ग्रुप संजय ढीगरा, हिमालया एजुकेशनल सोसाइटी के अध्यक्ष भूमेश अग्रवाल, प्रो वाइस चेयरमैन विवेक अग्रवाल एवं प्रधानाचार्या रंजना शाही ने दीप प्रज्ज्वलन के साथ मंत्रोच्चार के बीच किया। बच्चों ने पंजाब की विहंगम संस्कृति का दृश्य प्रस्तुत किया। प्रदर्शनी में इस दौरान सभी को को पंजाबी संस्कृति की झलकियां, पंजाब की विरासत, कला ऐतिहासिक की झलक देखने को मिली।

iimt haldwani

Delhi Public School

प्रदर्शनी में पंजाब, जनसांख्यिकीय, सांस्कृतिक, व्यंजन, पोशाक, आभूषण, पंजाब रेजिमेंट के जनसांख्यिकीय प्रोफाइल को दर्शाया गया साथ ही किंवदंतियों और प्रतीक, वास्तुकला, गतका प्रदर्शन, रंगोली को प्रदर्शित किया गया। दर्शकों को पंजाबी धुन और लय का लाइव संगीत और नृत्य प्रदर्शन मिलता रहा। प्रधानाचार्या रंजना शाही ने कहा कि धरोहर भारत के विभिन्न राज्यों की संस्कृति, परंपरा और विरासत के प्रदर्शन को जानने, जोडऩे और सराहना करने का एक प्रयास है। हर साल हम एक राज्य का प्रदर्शन करने और उसे उजागर करने के लिए चुनते हैं।

Dehli Publice school

बस स्वादिष्ट स्वादिष्ट व्यंजनों और लस्सी के लंबे ग्लास के साथ, पंजाब में भी संपन्न संस्कृति समृद्ध है। यहां के रीति-रिवाज और जीवंत परंपराएं इसे अनूठा बनाती हैं। एक अष्टांगिक व्यक्तित्व के कारण, पंजाब राज्य कभी भी अपने संगीत, कला और विभिन्न क्षेत्रों में कभी नवोदित प्रतिभा के साथ दुनिया में जाना जाता है। पंजाब हमें लंबे और चौड़ाई, दिल धडक़ते हुए गीत, ढोल और भंगड़ा में फैले सरसों के खेतों की याद दिलाता है। बच्चों ने पंजाब का सबसे अच्छा अनुभव देने का एक प्रयास किया। कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण गुरुद्वारे में गुरु का दरबार तथा मशहूर गतका प्रदर्शन रहे। इस अवसर पर उप प्रधानाचार्या रश्मि आनंद, विद्यालय प्रबंधन की रीता अग्रवाल, श्रेयल अग्रवाल, तुषारिका अग्रवाल समेत छात्र-छात्रा एवं अभिभावक मौजूद थे