PMS Group Venture haldwani

हल्द्वानी-कांग्रेस की खिचड़ी पार्टी में रायता ही रायता, प्रदेश प्रभारी के बयानों से मची खलबली

405
Slider

कांग्रेस की नई कार्यकारिणी गठन के बाद प्रदेशभर में भूचाल आ गया। एक के बाद एक नेता विरोध में उतर आये। सबसे पहले धारचूला विधायक हरीश धामी ने बगावत कर डाली। उन्होंने कार्यकारिणी से इस्तीफा देते हुए कांग्रेस पार्टी भी छोडऩे की धमकी दे डाली। वही नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश के खिलाफ विरोधी बिगुल बजा दिया। वह नेता प्रतिपक्ष को हटाने की मांग करने लगे उनके खिलाफत में कई विधायक भी खड़े हो गये। कांग्रेस के नेता इंदिरा हृदयेश को नेता प्रतिपक्ष के तौर पर नहीं देखना चाहते है। ऐसे में कांग्रेस के अंदरखाने ठंड में भी सियासी पारा गरम है।

cogress

Slider

आज हल्द्वानी के स्वराज आश्रम में कांग्रेस का खिचड़ी कार्यक्रम था लेकिन यहां राजनीति खिचड़ी पक गई। फिर क्या था एक के बाद एक नेता बयानबाजी पर उतर आये। कांग्रेसियों ने प्रदेश प्रभारी अनुग्रह नारायण सिंह और इंदिरा हृदयेश के सामने विरोध प्रकट किया। इस दौरान नैनीताल दुग्ध संघ के पूर्व चेयरमैन संजय किरौला और कालाढूंगी के पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष दीप सती ने इस्तीफा थमा दिया। खिचड़ी भोज में हंगामा हो गया।

Anugahaan

दोनों नेताओं ने समर्थकों के साथ जमकर बड़े नेताओं का विरोध किया। संजय किरौला ने कहा कि पार्टी का विरोध करने वाले लोगों को बड़े पदों से नवाजा गया है। उन्होंने धारचूला विधायक हरीश धामी का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नेताओं की उपेक्षा की जा रही है। इस दौरान प्रदेश प्रभारी अनुग्रह नारायण सिंह ने कहा कि पार्टी ने प्रदेश कार्यकारिणी बड़े ही संतुलित रूप से बनाई गई है। उन्होंने कहा नई कार्यकारिणी में काम करने वालों का स्वागत है। अगर किसी को नहीं करना है वो उनकी मर्जी है। उन्होंने साफ किया कि लिस्ट में कैसे किसका नाम जुड़ा इसकी जांच होगी।

indra Hirdyesh

हरीश धामी के बयान पर उन्होंने कहा कि अब प्रभारी के ऊपर ही बात आएगी। हरीश धामी मजबूत आदमी है। कार्यक्रम में हंगामा होने पर नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने कहा कि रास्ते में विरोध करके इस्तीफा देकर कोई समाधान नहीं होगा। ह्दयेश ने कहा कि बड़ी कार्यकारिणी बनाई गई है जिसमें योग्य व्यक्तियों को शामिल किया गया है। विधायक हरीश धामी की नाराजगी को लेकर हृदयेश ने कहा कि उनका कुछ नहीं बिगडऩे वाला है। पूरी बातें हो चुकी है पार्टी हर किसी को मनचाहा पद नहीं दे सकती है। एक सप्ताह के भीतर पार्टी में सभी चीजें ठीक हो जायेंगी। फिलहाल कांग्रेस में अंर्तकलह जारी है। आज खिचड़ी पार्टी में रायता फैलने के बाद भाजपा को बड़ा मौका मिल गया है।

देखें सी. एम. का वीडियो: