हल्द्वानी-कांग्रेस नेता सुमित हृदयेश, मतीन समेत इन लोगों के खिलाफ चार्जशीट, जानिये क्या है पूरा मामला

Slider

Haldwani News- एक बार फिर रेलवे भूमि का मामला उजागर हो गया है। रेलवे सुरक्षा बल ने े 30 लोगों के खिलाफ रेलवे भूमि सीमांकन के विरोध में हाईकोर्ट में आरोप पत्र दााखिल किया है। जिसके बाद सियासी हलचल तेज हो गई है। 30 लोगों में कांग्रेस नेता सुमित हृदयेश, अब्दुल मतीन और समाजवादी पार्टी के शोएब का नाम शामिल है। इस मामले में बनभूलपुरा और लालकुआं थाने में मुकदमा दर्ज था। भूलपुरा पुलिस पहले ही आरोप पत्र दाखिल कर चुकी है।

Sumit and Matin

Slider

रेलवे सीमांकन के विरोध का मामला

गौरतलब है कि वर्ष 2016 में रेलवे की ओर से बनभुलपूरा क्षेत्र में रेलवे की भूमि का सीमांकन कार्य किया जा रहा था। जिसके बाद कई राजनीतिक दलों व क्षेत्रीय लोगों ने इसका विरोध किया था। 8 दिसंबर 2016 को हाई कोर्ट के आदेश के बाद बनभूलपुरा और लालकुआं थाने में 30 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। इसकी प्रारंभिक जांच के बाद बनभूलपुरा पुलिस ने हाइकोर्ट में पहले ही आरोप पत्र दाखिल कर दिया गया था। रेलवे से मामले की जांच आरपीएफ के एसआई चंद्रसेन को सौंपी गई। उनके तबादले के बाद रणदीप कुमार ने विवेचना के बाद सभी अभियुक्तों के खिलाफ हाईकोर्ट में आरोप पत्र दाखिल किया गया है।

ये है वो 30 नाम
्रकांग्रेस नेता सुमित हृदयेश, अब्दुल मतीन सिद्दीकी, शोएब सिद्दीकी, हर्षित जोशी, बृजेश सिंह बिष्ट, अफसर उर्फ मल्लू, रिहान अंसारी, शकील सिद्दीकी, जरियाब सिद्दीकी, पार्षद गुफरान, अब्दुल गफूर, जावेद सिद्दीकी, अब्दुल राजिक, शारिक, आरिस, तस्लीम,अरशद अयूब, इस्लाम मिकरानी, अब्दुल वफा, उवेश राजा, अब्दुल नबी, मो. इकराम, मो. शमी, मो. वासी, सरताज हुसैन, सरताज, रईसुल हसन, वसीम सिद्दीकी, नफीस अहमद, सलमान के नाम शामिल है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें