iimt haldwani

हल्द्वानी-चिल्ड्रन एकेडमी में मची एक्सपो-2019 की धूम, हॉटेड हाउस ने खड़े किये लोगों के रोंगटे

589

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- आज हल्दूचौड़ स्थित चिल्ड्रन एकेडमी और ला इनफांसिया द्वारा एक्सपो-2019 का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी के प्रिंसिपल और डीन डा. सीपी भैसोड़ा ने दीप जलाकर किया। कार्यक्रम सुबह 10 बजे से शुरू होकर दोपहर 2 बजे तक चला। इस दौरान अलग-अलग विषयों पर बच्चों की एक्टविटी करायी गई। कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य बच्चों को जागरूक करना और पढ़ाई के प्रति प्रेरित करना था। जिससे उनका भविष्य संवर सकें। इस मौके पर बच्चों द्वारा कई विषयों पर मॉडल तैयार किये गये। जिसमें मैथ, सोशल साइंस, साइंस, लैग्वेज, आर्ट एंड क्राफ्ट और रोबोटिंक मुख्य रूप से रहेंगे। सभी विषयों के लिए दो-दो क्लास तैयार की गई थी।

amarpali haldwani

हर विषय पर बनाई लगाई प्रदर्शनी

जानकारी देते हुए चिल्ड्रन एकेडमी के प्रिंसिपल श्रीष पाठक ने बताया कि संस्कृत और अंग्रेजी के लिए 10 मिनट क्लासे करायी गई। इस दौरान बच्चों ने हिन्दी व्याकरण के एक रूम पर हिन्दी विषय पर थीम तैयार की गई थी जिसमें हिन्दी उत्पति से लेकर साहित्य तक का बच्चों ने सुंदर विश्लेषण किया था। एक रूम में बच्चों था मैथ की थीम, इंडिया हीरो फ्रिडम फाइटर के बारे में जानकारी दी गई थी। बच्चों द्वारा स्टेज ऑफ ह्यूमन के बारे में प्रदर्शनी की गई कि किस तरह वनमानस से इंसान मानव बना। एक रूम अंग्रेजी विषय की थीम तैयार की गई थी। यह कार्यक्रम हर चार साल के बाद आयोजित किया जाता है।

बाल मिठाई और घुघुतों ने जीता दिल

इसके अलावा हांटेड हाउस कार्यक्रम का खास आर्कषक रहा जो बेहद डरावना था। जिसके बाहर बच्चों द्वारा डरावने कंकाल भी बनाये गये थे। बच्चों द्वारा लेजर शो का आयोजन किया गया। इसके अलावा कार्सल विथ म्यूजिक की सुंदर प्रदर्शनी ने सबका मन मोह लिया। साथ ही रेडियो जॉकी का कार्यक्रम भी बच्चों द्वारा किया गया। जिसमें नानी द्वारा बच्चों को दिया जाने वाले शिक्षा के टिप्स व अन्य चीजों को बेहतरीन तरीकें से प्रदर्शन किया गया।

वही उत्तराखंड की संस्$कृति से भी बच्चों ने रूबरू कराया था जिसमें बाल मिठाई, घुघुते और पहाड़ी परिधान में छोटे-छोटे बच्चे अपनी ओर आर्कषित कर रहे थे। इसके अलावा गेमों का आयोजन भी किया गया। वही बच्चों द्वारा महादेव शिव की सुंदर मूर्ति बनाई गई जिसे बनाने में करीब पांच दिन लगे। कार्यक्रम से जाने के बाद बच्चे दर्शकों का फिल्ड बैक भी ले रहे थे जो लोगों को काफी अच्छा लगा।