iimt haldwani

हल्द्वानी- मुख्यमंत्री ने किया स्वस्त्ययन पब्लिक स्कूल का शुभारम्भ, शिक्षा को लेकर कही ये बड़ी बात

367

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- आज प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शिक्षा नगर लामाचौड़ स्थित स्वस्त्ययन पब्लिक स्कूल का शुभारम्भ किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हल्द्वानी के शिक्षा जगत में एक और नया नाम जुड़ गया है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा स्वस्त्ययन पब्लिक स्कूल में बच्चों को अच्छी शिक्षा मिलेगी। यहां से पढऩे वाला बच्चा देश का अच्छा नागरिक बनेगा और उत्तराखंड का नाम गौरवान्वित करेगा। उत्तराखंड में पुणे महाराष्ट्र से अच्छी शिक्षा प्रदान की जाती है क्योंकि उत्तराखंड देवभूमि में बच्चे में अच्छे संस्कार पैदा होते हैं क्योंकि संस्कार के बिना शिक्षा अधूरी है। हल्द्वानी में शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता तथा नए आयाम स्थापित करने के लिए स्वस्त्ययन पब्लिक स्कूल की भागीदारी रहेगी।

drishti haldwani

संस्कार के बिना शिक्षा अधूरी- शरण

संस्थान के चेयरमैन विष्णु शरण ने कहा कि 27 वर्षों से एमआईईटी ग्रुप द्वारा शिक्षा जगत में अपना परिचय ऊंचाइयों पर लहराते हुए शिक्षा नगर, लामाचौड़ में स्वस्त्ययन पब्लिक स्कूल की स्थापना की है। उन्होंने कहा कि शिक्षा के मंदिर में हम बच्चों में वैदिक संस्कृति का संचार करने तथा उन्हें एक श्रेष्ठ मानव बनाने में विश्वास रखते हैं, क्योंकि संस्कार के बिना शिक्षा अधूरी हैं। बच्चों में शिक्षा के साथ-साथ नैतिक मूल्यों का भी ज्ञान होना चाहिए। प्रधानाचार्य मिली चौधरी ने बताया कि यहां बच्चों को शिक्षा प्रदान करने के लिए शिक्षा के हर पहलू पर बारीकी से ध्यान दिया जाएगा, ताकि बच्चे भविष्य में एक आदर्श नागरिक बनने के साथ-साथ अपने भविष्य में भी सफलता हासिल करें। विद्यालय में आधुनिक तकनीक, डिजिटल कक्षाएं तथा विभिन्न गतिविधियां जैसी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी ताकि बच्चों का चहुंमुखी विकास हो सकें।

विद्या का कोई अंत नहीं- कोश्यारी

सांसद भगत सिंह कोश्यारी ने स्वस्त्ययन पब्लिक स्कूल का संस्कृत में अर्थ बताया तथा कहा कि हम कुमाऊंनी लोग किसी भी कार्य को करने से पहले स्वस्थ और स्वास्थ्य का वाचन करते हैं विद्या का कोई अंत नहीं, कोई माध्य नहीं क्योंकि विद्या अनंत है। सलाहकार रजनीकांत बिष्ट ने बताया कि स्वस्त्ययन पब्लिक स्कूल में बच्चों को अच्छे वातावरण में शिक्षा मिलेगी तभी वे अपने जीवन में उड़ान भर सकते हैं। इसलिए बच्चों को अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित रहते हुए कठिन परिश्रम करना चाहिए। यहां केवल किताबी ज्ञान नहीं बल्कि आर्मी तथा एयरफोर्स में की जा रही अनुशासन, शिष्टाचार, आत्मविश्वास, सकारात्मक सोच, टाइम मैनेजमेंट, डिसीजन मेकिंग और देशभक्ति भी सिखाई जाएगी। प्रिंसिपल मिली चौधरी ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस मौके पर उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत, विधायक कालाढूंगी बंशीधर भगत, विधायक नैनीताल संजीव आर्य, विधायक लालकुआं नवीन दुम्का, विधायक द्वाराहाट महेश नेगी, चेयरमैन केयूवी बोर्ड गजराज बिष्ट, वाइस चांसलर उत्तरांचल ओपन यूनिवर्सिटी प्रोफेसर ओपीएस नेगी, जिला अध्यक्ष बीजेपी प्रदीप सिंह बिष्ट, चेयरमैन एमआईईटी ग्रुप विष्णु शरण अग्रवाल, शिक्षा सलाहकार स्वस्त्ययन पब्लिक स्कूल रजनीकांत बिष्ट, ब्लॉक प्रमुख हल्द्वानी आनंद सिंह दरम्वाल, मेयर जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला, विधायक रामनगर दीवान सिंह बिष्ट, एमआईईटी उपाध्यक्ष पुनीत अग्रवाल, मैनेजिंग डायरेक्टर डा. बीएस बिष्ट, मीडिया प्रभारी अजय चौधरी, विश्वास गौतम, प्रिंसिपल मिली चौधरी, मुख्यमंत्री सचिव एवं मंडलायुक्त राजीव रौतेला, जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन, डीआईजी अजय जोशी, एसएसपी सुनील मीणा एवं जनसंपर्क अधिकारी विजय बिष्ट मौजूद रहे।