हल्द्वानी-रक्तचाप से आप भी है परेशान तो अपनाये डा. पाण्डेय के ये उपचार

Slider

Haldwani News- साहस होम्योपैथिक के विशेषज्ञ डा. एनसी पाण्डेय ने इस बार रक्तचाप को लेकर जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि कैसे रक्तचाप बढ़ाता है इसके कैसे ठीक किया जा सकता है। डा. पाण्डेय ने बताया कि रक्त धमनियों की दीवारों को जिस शक्ति के साथ धकेलता है, उस शक्ति के माप को रक्तचाप कहा जाता है। जब दिल रक्त को बाहर पंप करने के लिए सिकुड़ता है, उस समय रक्त का दबाव सबसे ज्यादा होता है। इस माप को प्रंकूचक (सिस्टोलिक) दबाव कहा जाता है। उन्होंने बताया कि ज्यादातर लोगों में उच्च रक्तचाप एक लिए किसी खास कारण की पहचान नहीं हो पाती है। जैसे यह अपने आप में एक अलग किस्म का रोग है जो शायद किसी हद तक उच्च रक्तचाप के प्रति अनुवांशिक रूझान के कारण होता है। उम्र बढऩे के साथ उच्च रक्त चाप की संभावनाएं बढ़ती जाती हैं।

Slider

डा पाण्डेय ने बताया कि रक्तचाप थकान,मानसिक संभ्रम, उबकाई आना या पेट खराब होना, दृष्टि में परिवर्तन या समस्याएं, ज्यादा पसीना आना, त्वचा का पीला या लाल होना, खून बहना घबराहट या चिंता, दिल की धडक़नों का तेज या अनियमित होना, कानों में सांय-सांय होना, सिरदर्द और चक्कर आना जैसे कारण है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा टांगों में दर्द, उल्टी होने की शिकायत और चिड़चिड़ापन होने से इसके लक्षण होते है। यह रोग जीवन शैली और खान पान की आदतों से जुड़ा होने के कारण केवल दवाओं से इस रोग को समूल नष्ट करना संभव नहीं है। जीवन चर्या एवं खानपान में अपेक्षित बदलाव कर इस रोग को पूरी तरह नियंत्रित किया सकता है। उन्होंने इसके उपचार की विधि अपने वीडियो के माध्यम से दर्शकों तक पहुंचाई है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें