iimt haldwani

हल्द्वानी-भाजपा ने ऐसे की हरेला पर्व की शुरूआत, सांसद भट्ट और कृषि उत्पादन विपणन बोर्ड के अध्यक्ष गजराज ने बांटे पौधे

182

हल्द्वानी-आज हरियाली का प्रतीक हरेला पर्व पखवाडे ़में कृषि उत्पादन विपणन बोर्ड की पहल पर मंडी समिति द्वारा वृहद पौधारोपण अभियान चलाया जायेगा। कुसुमखेड़ा हनुमान मन्दिर के पास काश्तकारों व क्षेत्रीय जनता को मंडी समिति द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि अध्यक्ष उत्तराखण्ड कृषि उत्पादन विपणन बोर्ड गजराज सिंह बिष्ट, सांसद अजय भट्ट, विधायक बंशीधर भगत, चन्दन राम दास, मेयर डा. जोगेन्दर पाल सिह रौतेला व जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट द्वारा संयुक्त रूप से 2500 फलदार पौधों का निशुल्क वितरण किया गया। कार्यक्रम में प्रगतिशील किसान चन्दन सिंह लटवाल को शाल, प्रतीक चिन्ह व पौध भेंट कर सम्मानित किया गया।

amarpali haldwani

Ajay Bhatt and Gajaraj Bisht

प्रत्येक बूथ रोपे जायेंगे पांच पौधे-भट्ट

सांसद अजय भट्ट ने कहा कि आधुनिक भौतिकवादी युग में हम अपने निजी स्वार्थो के लिए वृक्षों का अन्धाधुंध कटान कर रहे है, लेकिन अफसोस की बात है कि कटान के सापेक्ष वृक्षारोपण के प्रति हम उदासीन है। उन्होंने कहा कि जलस्रोतों, नौलों, गधेरों व नदियों के रिचार्ज को दृष्टिगत रखते हुए वृहद वृक्षारोपण किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के निर्देशों के क्रम में प्रत्येक बूथ को पंचवटी बनाया जायेगा यानि प्रत्येक बूथ पर पांच पौधों का रोपण किया जायेगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान में पर्यावरण में हवा, पानी दूषित हो रहा है तथा पानी की निरंतर कमी हो रही है, पौधों का रोपण कर हम इस समस्या से निजात पा सकते है। भट्ट ने कहा कि जमरानी बांध बनाना हमारी सरकार की प्राथमिकता में है। उन्होंने कहा कि जमरानी बांध बनने से तराई भाबर में पानी की समस्या दूर होगी व विकास होगा। उन्होंने कहा सांसद निधि से पेयजल योजनाओं को प्राथमिकता से धनराशि दी जायेगी।

Ajay bhatt and Prdeep bisht

मंडी ने खरीदा काश्कारों का पहाड़ी अनाज- गजराज बिष्ट

अध्यक्ष उत्तराखण्ड कृषि उत्पादन विपणन बोर्ड गजराज सिंह बिष्ट ने कहा मंडी समिति द्वारा काश्तकारों को फलदार पौध वितरित की जा रही है। उन्होंने पौधों को अपने बुजुर्गों के नाम पर रोपित कर सेवा करने को कहा ताकि पौधे जीवित रह सकें। उन्होंने कहा कि पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर अल्मोड़ा व चमोली जिले को मंडी द्वारा गोद लेकर काश्तकारों का 5.50 लाख का पहाड़ी उत्पाद खरीदा है। सरकार द्वारा पहाड़ के काश्तकारों को लाभ पहुंचाने की दृष्टि से सभी फसलों के दाम तय किये गये। उन्होंने कहा कि काश्तकार अधिक से अधिक जैविक उत्पादन करें। उन्होंने कहा कि जैविक उत्पादों के अलग से मंडी बनाई जायेगी ताकि काश्तकारों को अपने उत्पादन का उच्च दाम मिल सकें व काश्तकारों की आय 2022 तक दोगुनी हो सकें।

3.50 करोड़ से बुझेंगी कुसुमखेड़ा की प्यास- रौतेला

मेयर डा. जोगेन्दर पाल सिह रौतेला ने कहा कि अपने क्षेत्र के पेड़-पौधे, जड़ी-बूटी, जीव-जन्तु, पेयजल स्रोत आदि का संरक्षण एवं संर्वधन करना हमारा दायित्व है। उन्होंने कहा कि पेड़ लगाने के साथ ही उनकी परवरिश करनी चाहिए। रौतेला ने कहा कि कुसुमखेड़ा क्षेत्र के लिए एडीबी द्वारा लगभग 3.50 करोड़ की पेयजल योजना स्वीकृत कर दी गई है साथ ही क्षेत्र में नगर निगम द्वारा प्रकाश व्यवस्था भी की जायेगी। कालाढंूगी विधायक बंशीधर भगत ने कहा कि क्षेत्र के विकास एवं पेयजल समस्या दूर करने के लिए जमरानी बांध निर्माण अति आवश्यक है। कार्यक्रम को जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, मण्डल अध्यक्ष प्रताप बोरा आदि द्वारा सम्बोधित किया गया। संचालन चन्दन सिह बिष्ट द्वारा किया गया।