Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तराखंड हल्द्वानी- कोरोनाकाल में इन बिमारियों से जूंझ रहे मरीज रहे सावधान, एसटीएच...

हल्द्वानी- कोरोनाकाल में इन बिमारियों से जूंझ रहे मरीज रहे सावधान, एसटीएच में हुई इतनी मौतें

देखिए किस जुर्म में गिरफ्तार किया गया दो युवकों को

संवाददाता -अनुराग शुक्ला स्थान -सितारगंज वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा चलाए जा रहे नशे के विरुद्ध अभियान के चलते नानकमत्ता पुलिस ने  6 ग्राम अवैध स्मैक के...

जानिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा कहां चलाया गया नगर इकाई सदस्यता अभियान

संवाददाता -अनुराग शुक्ला स्थान- सितारगंज  अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद सितारगंज नगर इकाई द्वारा छात्र संघ सचिव व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य देवेश कुमार के नेतृत्व में सदस्यता...

हल्द्वानी- इस दंपती ने बताया “कपल चैलैंज” का असली मतलब, अब हो रही वाहवाही

सोशल मीडिया में इन दिनों कपल चैलेंज ट्रेंड कापी चर्चाओं में है। पिछले 3 से 4 दिनों में करीब 29 लाख लोगो द्वारा इस...

किच्छा: रेलवे ब्रिज से गिरे अध्यापक, फिर क्या हुआ

रुद्रपुर । पुलभट्टा में नदी के ऊपर बने रेलवे ब्रिज के किनारे साइकिल से जा रहे एक अध्यापक की पुल से गिर कर मौत...

देहरादून- किसान बिल के खिलाफ इस बड़े आंदोलन की तैयारी में कांग्रेस, प्रदेश अध्यक्ष ने किया ये ऐलान

कृषि से संबंधित तीन कानूनों के विरोध में उत्तराखंड में राजभवन कूच की तैयारी कांग्रेस ने करीब-करीब पूरी कर ली है। 28 सितंबर यानी...
Uttarakhand Government

हल्द्वानी के सुशीला अस्पताल के चिकित्सकों ने एक खास रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट में कोरोना के दौरान हुई मौतों में मरीज के शरीर में किन बीमारियों को पाया गया इसका खुलासा किया है। स्वास्थ्य विभाग के कोरोना बुलेटिन में नज़र डाले तो कोरोना से 134 लोग उत्तराखंड में जान गवा चुके है। वही कुमाऊं के एक मात्र सबसे बड़े सुशीला तिवारी चिकित्सालय में 48 कोविड-19 मरीज मर चुके है। कोरोना से मरने वालों में सबसे कम उम्र 17 साल का जबकि सबसे अधिक 87 उम्र के मरीज शामिल है।


Uttarakhand Government

plasma therapy haldwani sth uttarakhand

Uttarakhand Government

एसटीएच के चिकित्सक और कोविड-19 के नोडल अधिकारी डॉ. परमजीत सिंह की माने तो कोरोना मरने वाले मरीजों में कैंसर, किडनी फेलियर, सीओपीडी, हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारियों के काफी रोगी शामिल है। उनकी माने तो कोरोना वायरस के बढ़ते ग्राफ के पीछे मरीजों का डॉक्टरों के संपर्क में कम आना एक बड़ी वजह है।

Uttarakhand Government

बुखार, सर्दी या कोई अन्य छोटी बीमारी होने पर इन दिनों लोग कोरोना के डर से डॉक्टरों को दिखाने से बच रहे है, जो बड़ा कारण है कोरोना को बढ़ावा देने का। बिना डॉक्टर की राय के कोई भी दवाई लेने से शरीर में नये रोगों के पैदा होने की संभावना बड़ जाती है। जिसका सतर्कता से इलाज होना अति आवश्यक है।

921 मरीज़ हो चुके भर्ती

डॉ. परमजीत सिंह ने बताया कि सुशीला तिवारी अस्पताल में कोरोना के 921 मरीज अभी तक भर्ती हो चुके है। रिकवरी की बात करें तो 676 मरीज स्वास्थ होके अपने घर वापस जा चुके है। वही 48 मरीज अपनी जान गवा चुके है। इसके अलावा 197 मरीजों का उपचार एसटीएच में जारी है। उनकी माने तो कोरोना वायरस से डरने की आवश्यकता नहीं है।

इसके मरीजों का सुशीला तिवारी अस्पताल में अनुभवी चिकित्सकों की देखरेख में उपचार किया जा रहा है। जिसमें ओपीडी, फिजिशियन, मेडिसिन डिपार्टमेंट आदी डॉक्टर्स शामिल है। उन्होंने कहा कि किसी भी बिमारी के लक्षण होने पर घबरायें नहीं डॉक्टर से संपर्क करें। कोरोना काल में गंभीर बीमारी से जूंझ रहे मरीजों को अधिक सावधानी बरतनी की जरूरत है।

एसटीएच में कोविड-19 से मौत के आकड़े

0 से 10 वर्ष – एक भी नहीं
11 से 20 वर्ष- 1 मौत
21 से 30 वर्ष- 2 मौत
31 से 40 वर्ष- 4 मौत
40 से 50 वर्ष- 7 मौतें
51 से 60 वर्ष- 18 मौतें
61 वर्ष और उससे अधिक- 16 मौतें

Uttarakhand Government

Related News

देखिए किस जुर्म में गिरफ्तार किया गया दो युवकों को

संवाददाता -अनुराग शुक्ला स्थान -सितारगंज वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा चलाए जा रहे नशे के विरुद्ध अभियान के चलते नानकमत्ता पुलिस ने  6 ग्राम अवैध स्मैक के...

जानिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा कहां चलाया गया नगर इकाई सदस्यता अभियान

संवाददाता -अनुराग शुक्ला स्थान- सितारगंज  अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद सितारगंज नगर इकाई द्वारा छात्र संघ सचिव व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य देवेश कुमार के नेतृत्व में सदस्यता...

हल्द्वानी- इस दंपती ने बताया “कपल चैलैंज” का असली मतलब, अब हो रही वाहवाही

सोशल मीडिया में इन दिनों कपल चैलेंज ट्रेंड कापी चर्चाओं में है। पिछले 3 से 4 दिनों में करीब 29 लाख लोगो द्वारा इस...

किच्छा: रेलवे ब्रिज से गिरे अध्यापक, फिर क्या हुआ

रुद्रपुर । पुलभट्टा में नदी के ऊपर बने रेलवे ब्रिज के किनारे साइकिल से जा रहे एक अध्यापक की पुल से गिर कर मौत...

देहरादून- किसान बिल के खिलाफ इस बड़े आंदोलन की तैयारी में कांग्रेस, प्रदेश अध्यक्ष ने किया ये ऐलान

कृषि से संबंधित तीन कानूनों के विरोध में उत्तराखंड में राजभवन कूच की तैयारी कांग्रेस ने करीब-करीब पूरी कर ली है। 28 सितंबर यानी...

देहरादून- देश के धार्मिक इतिहास को ऐसे सवारेगी उत्तराखंड सरकार, तैयार की ये नई योजना

उत्तराखंड में आने वाले समय में महाभारत, रामायण व सीता सर्किट से धार्मिक पर्यटन के नए रास्ते खोले जाएंगे। प्रदेश सरकार ने इन तीनों...
Uttarakhand Government