हल्द्वानी-बागेश्वर के सागर ने स्विट्जरलैंड में लहराया तिरंगा, दुनियां मेंं बजा देवभूमि डंका

Slider

हल्द्वानी-एक बार फिर देवभूमि उत्तराखंड का नाम रोशन हुआ है। बागेश्वर के सागर थायत ने जूनियर वल्र्ड पैरालंपिक एथलेटिक्स चैंपियनशिप में देश के लिए गोल्ड मेडल जीता है। सागर ने गोला फेंक के छह अटेम्प्ट में छह बार बढ़त कायम की और रिकॉर्ड अपने नाम किया। गरुड़ ब्लॉक के पुरड़ा में रहने वाले 19 वर्षीय सागर थायत पुत्र लक्ष्मण थायत ने स्विजरलैंड के नोटविल शहर में भारतीय परचम लहरा दिया है। उन्होंने गोला फेंक में क्रोशिया, बेल्जियम, बुल्गारिया के खिलाडिय़ों को पछाड़ते हुए गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया। सागर ने 11.82 मीटर गोला फेंक प्रतियोगिता में कुल 717 अंक प्राप्त किए। सागर ने अपनी सफलता का श्रेय अपने कोच, माता-पिता को दिया है।

sagar
स्विट्जरलैंड के नोटविल में चल रही पैरालंपिक एथलेटिक्स चैंपियनशिप के गोला फेंक प्रतिस्पर्धा में भारत ने प्रथम, क्रोटिया ने द्वितीय व बुलगेरियन ने तृतीय स्थान हासिल किया। सागर ने शानदार प्रदर्शन के दम पर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया। सागर बागेश्वर जिले के गरूड़ क्षेत्र के रहने वाले हैं।

Slider
उत्तराखंड की बड़ी खबरें