हल्द्वानी- अवतार सिंह को नशे की गोलियाँ देकर पत्नी बांध रही थी मौत का समान, फिर जो हुआ उसे सुनकर हर पति-पत्नी के खड़े हो जाएंगे रोंगटे

1978

भीमताल थाना क्षेत्र के सलड़ी में 16 मई की रात जली कार में जला शख्स अवतार ही था। इस बात को खुद अवतार की हत्यारोपी पत्नी नीलम चौधरी और उसके प्रेमी व अवतार के दोस्त मनीष ने कबूला। इसके अलावा अवतार की हत्या में मनीष का एक दोस्त अजय यादव में भी शामिल था। जो अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी नैनीताल सुनील कुमार मीणा ने बताया कि अवतार की हत्या की पूरी साजिश नीलम और मनीष ने रची। जिसके लिए वह अवतार को हल्द्वानी लाने से पहले घर से ही नींद की गोलियां खिलाकर लाये। जिसके बाद पुलिस को गुमराह करने के लिए उसे हल्द्वानी के एक चिकित्सक को भी दिखाया। और अंधेरा होते ही उसे सलड़ी के पास लेजाकर, कार में बैठा छोड़ कार पर मट्टी का तेल छिड़क आग लगा दी। पुलिस जानकारी मुताबित पूरी वारदात को अंजाम देने के लिए हत्यारों ने टीवी के प्रसिद्ध शो सावधान इंडिया का सहारा लिया।

murder

सलड़ी पहुंचने तक जिंदा था अवतार सिंह


जानकारी मुताबिक सलड़ी पहुंचने तक अवतार सिंह जिंदा था। वो केवल नींद की दवाई के नशे में था, जो उसकी पत्नी ने उसे पूरी प्लानिंग के तहत घर पर ही किसी तरह खिला दी थी। जिससे वह कट पुतली की तरह अपनी मौत की पूरी कहानी का हिस्सा बनता रहा। पुलिस पूछताछ में मनीष ने बताया कि अवतार को गाड़ी समेत आग के हवाले करने से पहले मनीष ने उसकी गला घोटकर हत्या की थी, और बाद में कार में बिठाकर आग लगाई। जानकारी मुताबिक ऐसा नीलम और मनीष ने दोनो के बीच पिछले एक साल से चल रहे अवैध संबंध के चलते किया। दोनो के बीच संबंध होने की बात का पता अवतार को चल गया था। जिसके चलते उसका मनीष से छगड़ा भी हुआ। जिसके बाद से एक दूसरे के प्रेम में चूर नीलम और मनीष ने अवतार को ही रास्ते से हटाने की पूरी साजिश रच डाली। और सलड़ी लाकर उसको कार समेत फूंक दिया।

MurderCase

मार्च से कर रहे थे हत्या की प्लानिंग

जानकारी मुताबिक अवतार की हत्या की प्लानिंग नीलम और मनीष मार्च महिने से कर रहे थे। जिसके लिए मनीष ने अपने साथी अजय यादव निवासी ग्राम दौलतिया थाना मुगराबाद शाहपुर जिला जौनपुर उत्तरप्रदेश से संपर्क किया। फिर तीनों ने मिलकर अवतार की मौत का पूरा प्लान तैयार किया। और 16 मई की रात हत्या को हादसा दिखाने के लिए उसको कार में बिठाकर कार को मिट्टी के तेल से सलड़ी के पास जला दिया। जिसका खुलासा करते हुए पुलिस ने अवतार की हत्यारिन पत्नी नीलम चौधरी निवासी समियालेक हाउसिंग सोसाइटी रुद्रपुर और मनीष मिश्रा पुत्र सुरेश मिश्रा निवासी ग्राम नन्दोत थाना फूलपुर जिला प्रयागराज को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वही हत्या में शामिल अजय यादव अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। जिसकी तलाश पुलिस द्वारा की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here