drishti haldwani

हल्द्वानी-आनन्दा ने इस खास अंदाज में मनाया गणतंत्र दिवस, अग्निपथ का हूं मैं पथिक ने मोहा मन

260

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्कआनन्दा एकेडमी, डहरिया में गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर नन्हें-मुन्ने बच्चों द्वारा देशभक्ति से ओत-प्रोत कई सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये। विद्यालय के प्रधानाचार्य कृष्णा जोशी तथा मुख्य अतिथि असिस्टेटं कमांडेंट (सीआरपीएफ) चन्द्रशेखर जोशी ने राष्ट्रगान की धुन के साथ झंडारोहण किया गया। इस मौके पर प्रधानाचार्य कृष्णा जोशी ने बच्चों को गणतंत्र का महत्व समझाते हुए, शहीदों द्वारा दिए गये। इस स्वतंत्रता के उपहार को सहेजकर रखने का संकल्प दिलाया गया। इस बीच देशभक्ति नारों से विद्यालय परिसर गुंजायमान हो उठा। सास्ंकृतिक कार्यक्रमों का शुभारंभ नर्सरी के बच्चों द्वारा मेरा मुल्क मेरा देश गीत पर सुन्दर नृत्य के साथ किया गया।

iimt haldwani

सुनों गौर से दुनियां वालो ने मचाई धूम

इसके बाद नर्सरी, एलकेजी तथा यूकेजी के बच्चों ने मनमोहक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। इस मौके पर नर्सरी के बच्चों का सुनो गौर से दुनियां वालो, एलकेजी के बच्चों को कहते है हमको प्यार से इडिंया वाले डांस तथा यूकेजी के बच्चों का रंग दे बसंती डांस को विशेष सराहा गया। इनके अतिरिक्तकक्षा दो द्वारा कर हर मैदान फतेह, कक्षा एक के बच्चों द्वारा ‘दिल है हिन्दुस्तानी‘ गीत पर सुन्दर नृत्य ने खूब तालियां बंटोरी। इसके अतिरिक्त दीपा पाण्डे दारा निर्देशित ‘अग्निपथ का हूं मैं पथिक‘ सहित अन्य देशभक्ति नृत्यों ने सबका मन मोह लिया तथा कक्षा सात के छात्र-छात्राओं द्वारा, शिक्षिका चन्द्रकला बिष्ट के निर्देशन में प्रस्तुत देशभक्ति से ओत-प्रोत नृत्य-नाटक ने वीर सैनिकों के त्याग और बलिदान का ऐसा मंचन किया कि सभी दर्शक भावुक हो गए।

भाषणों से किया वीरों को याद

मंच संचालन शिक्षिका पंकज कंसल तथा छात्र कुनाल उप्रेती व दीपिका आर्या ने किया। मंच सज्जा का कार्य शिक्षिका मीनाक्षी तिवारी, नीरु त्रिपाठी, प्राक्षी ओझा, आइना भमरा आदि ने किया। शिक्षिका सुनीता भाकुनी, कक्षा 7 से संयुक्ता बहुगुणा व दिव्या ऐठानी ने भाषणों के माध्यम से स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को याद किया। कार्यक्रम के अंत में प्रधानाचार्य कृष्णा जोशी द्वारा मुख्य अतिथि कैप्टन जोशी को स्मृति चिन्ह देते हुए सभी अभिभावकों, बच्चों व स्टाफ का धन्यवाद किया गया। इस अवसर पर रंजन मिश्रा, माया बिष्ट, नेहा भट्ट, सरोज रौतेला, कुसुम पचौरी, मीनू मेर, कमल तिवारी, नीलम शर्मा, राजेन्द्र थापा, गिरीश जोशी, पूजा मनराल, पिंकी बिष्ट, रेनु पंत, तनुजा शर्मा, दीक्षा बिष्ट, हिमानी बोरा, अक्षय जोशी इत्यादि शिक्षिक-शिक्षिकाएं तथा विद्यार्थी मौजूद थे।