PMS Group Venture haldwani

हल्द्वानी-27 सालों से ऐसे शिक्षा जगत में परचम लहरा रहा नैनी वैली, शुरू हुए 2020-21 के लिए एडमिशन

105
Slider

नैनीताल रोड स्थित नैनी वैली स्कूल में नगर के प्रतिष्ठित स्कूलों में गिना जाता है। अपने बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए नैनी वैली अभिभावकों की पहली पसंद बना है। हर साल स्कूल के छात्रों का शानदार प्रदर्शन रहा है। टैलेंटेंड शिक्षकों की बदौलत नैनी वैली दिन प्रतिदिन सफलताओं की सीढिय़ा चढ़ते जा रहा है। इसकी पहचान नैनीताल जिले में ही नहीं बल्कि पूरे कुमाऊं में है। इन दिनों वर्ष 2020-21 के लिए एडमिशन शुरू हो चुके है। हर दिन अभिभावक अपने बच्चों को लेकर नैनी वैली एडमिशन को पहुंच रहे है।

naini Vaily
स्कूल की प्रिंसिपल संगीता गोयल ने बताया कि नैनी वैली की शुरूआत नर्सरी से हुई थी। सबसे पहले इस स्कूल का नाम टेण्डर फीट नाम पर रखा गया था। आज सैकड़ों बच्चे इस स्कूल में अध्ययनरत है। जबकि शुरूआत में केवल दो बच्चे इस स्कूल में पढ़ करते थे। पिछले 27 सालों से नैनी वैली ने शिक्षा के क्षेत्र में अपना परचम लहराया है। गोयल ने बताया कि वर्ष 2009 में 12वीं का उनका पहला बैंच निकला। यह स्कूल कुमाऊं का पहला फस्ट फुल्ली डिजिटल स्कूल है जो पूरी तरह से सीसीटीवी कैमरों से लैस है। आज नैनी वैली से पढ़े के विद्यार्थी कई बड़े पदों पर बैठकर देशसेवा कर रहे हैं।

Slider

naini Vaily

पढ़ाई के साथ-साथ नैनी-वैली से कई प्रतिभाओं ने खेलों में भी अपना लोहा मनवाया। शिक्षा, खेल, आर्ट हर क्षेत्र में यहां के विद्यार्थियों ने स्कूल का नाम रोशन किया। प्रतिभाओं ने नैनी वैली की झोली में कई गोल्ड मेडल डाले। हर साल की तरह इस साल भी नर्सरी से 11वीं तक की क्लास के लिए एडमिशन शुरू हो चुके है। स्कूल में सभी क्लासें डिजीटल है। पूरा कैम्पस सीसीटीवी कैमरों व जीपीएस से लैस है। बच्चों को स्मार्ट अध्यापकों द्वारा पढ़ाई के शानदार टिप्स दिये जाते है। यहां छात्रों को वैदिक गणित पढ़ाई जाती है। वही बच्चों की सुरक्षा के लिए बसों में भी सीसीटीवी कैमरे और बच्चों को लेने के लिए महिलाएं कंडक्टर के तौर पर रखी गई हैै।

हर उत्तराखंडवासी को मिलेगा 5 लाख का मुफ्त इलाज