हल्द्वानी-10 लाख के पार हुआ बीके सामंत का बिन्दुली गीत, ऐसे एक नये मुकाम पर पहुंचा उत्तराखंडी संगीत

Slider

हल्द्वानी-उत्तराखंड के सुपरस्टार लोकगायक बीके सामंत एक बार फिर सुर्खियों में है। इन दिनों उनके गीत बिन्दुली ने जबरदस्त धमाल मचा रखा है। अपने गीत थल की बजारा से लोगों को थिरकाने वाले और तू ऐ जाओ पहाड़, यो मेरो पहाड़ जैसे गीतों से लोगों को पहाड़ आने के लिए प्रोत्साहित करने वाले लोकगायक बीके सामंत एक बार फिर लोगों को थिरका रहे है। उनका बिन्दुली गीत 10 लाख पार हो गया। पिछले महीने 7 मई को रिलीज हुआ यह गीत आज लोगों की जुबां पर है। इससे पहले बीके सामंत का थल की बजारा गीत तीन करोड़ से ऊपर व्यूज के साथ उत्तराखंड में सबसे टॉप गीतों की श्रेणी में अपना कब्जा जमा चुका है।

Slider

फोन पर बातचीत में लोकगायक बीके सामंत ने बताया कि पहाड़ की संस्कृति को विश्वपटल पर पहुंचाना और उसे संवार उनका लक्ष्य है। वह पहाड़ के संगीत के नई ऊंचाइयों पर ले जाना चाहते है। आज हर राज्य के गीत बजते है लेकिन उत्तराखंड के गीत कही-कही सुनाई देते है। हमारे संगीत को भी एक बड़ी पहचान मिल सके। इसके लिए वह दिन-रात मेहनत कर रहे है। इसके अलावा उन्होंने पहाड़ से हो रहे पलायन को अपने गीतों के माध्यम से व्यक्त किया। साथ ही उन्होंने यो मेरो पहाड़ से पहाड़ की सुंदरता का की व्याखान किया।

उत्तराखंड में जब से लोकगायक बीके सामंत ने अपना कदम रखा है। वाकई में उत्तराखंड संगीत को एक नई पहचान मिली है। इनके परिणाम आपके सामने है कि उनके गीत करोड़ों की लिस्ट में शामिल है। आज उनका हर गीत टिक टॉक, लाइकी, फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर किये जा रहे है। हर दिन सैकड़ों लोग इन गीतों पर वीडियों बनाकर सोशल मीडिया पर डाल रहे है। उनके गीतों को उत्तराखंड में ही नहीं दिल्ली, मुंबई जैसे महानगरों में खूब प्यार मिल रहा है। लोकगायक बीके सामंत ने कहा कि जैसा प्यार देवभूमि के दर्शकों ने उन्हें अभी तक दिया है उन्हें उम्मीद है आगे भी उनके गीतों को ऐसा ही प्यार मिलेगा। उनके चैनल के 1.23 लाख सब्सक्राइबर पूरे हो चुके है।

 

उत्तराखंड की बड़ी खबरें