iimt haldwani

नैनीताल-कुमाऊंनी-गढ़वाली गीतों से गूंजी सरोवर नगरी, देर रात तक झूमे लोग

156

नैनीताल-न्यूज टुडे नेटवर्क-कार्निवाल के दूसरे दिन के सांय कालीन सत्र में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारम्भ ले. कर्नल गीतांजलि भट्ट तथा जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया। दर्शकों से खचाखच भरे पंडाल में राष्ट्रीय एवं अन्तराष्ट्रीय स्तर के कुमाऊंनी एवं गढ़वाली लोक गीत गायकों द्वारा प्रस्तुति दी गयी, जिसे सुनकर दर्शक झूम उठे। लोक गायिका माया उपाध्याय ने आज का दिना तू हौली घर पना, हाय ककड़ी झिलेमा नून पिसै सिलेमा लोक गीत प्रस्तुत कियेे जिस पर लोगों ने जमकर तालियां बजायी। लोक गायिका हेमा ध्यानी ने लोडा मोहना तेरी केमू वे गाड़ी ओ भिना कस के जानू दुरहटा गीतों की प्रस्तुति दी। लोक गायक आनन्द कोरंगा ने धरि दिया ध्याना, उत्तराखण्ड के सुदूर सीमान्त गॉव माणा से आए लोक गायक किशन महिपाल ने फ्यूलडिय़ा तेरो मेरो साथ छयो पहलो जनम मां गीत प्रस्तुत कर जनता को मंत्र मुग्ध कर दिया।

amarpali haldwani

बाजी मार ले गये महिपाल, तोमक्याल और दक्ष कार्की

लोक गायक जितेन्द्र तोमक्याल, दक्ष कार्की, प्रत्यूष जोशी तथा मेघा भारतीय ने कुमाऊंनी लोक गीतों की प्रस्तुति से दर्शकों सराबोर कर दिया। इन लोक गायकों की प्रस्तति पर जनता थिरकने को भी मजबूर हुए। वही बालीबुड गायिका नुपुर पन्त की धमाकेदार प्रस्तुति ने दर्शकों मे रोमांच व सिहरन पैदा कर दी। दिन के समय आयोजित कार्यक्रमों मे सूचना विभाग के पजीकृत सांस्कृतिक दलों जन जागृति सांस्कृतिक कला समिति, दिव्य ज्योति लोक कला विकास समिति तथा सांस्कृतिक लोक कला समिति के कलाकारों द्वारा उत्तराखण्डी संस्कृति एवं लोक परम्पराओं पर आधारित कार्यक्रमों की बयार मुख्य मंच पर बहाई। दर्शकों एवं पर्यटकों नें स्थानीय कलाकारों की प्रस्तुति के जरिये उत्तराखण्ड की लोक संस्कृति हासिल की और आनन्द लिया।

देर रात तक चले इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या मेें दर्शकों के अलावा मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, निदेशक डेयरी प्रकाश चन्द्र, अपर जिलाधिकारी हरबीर सिंह, मुख्य व्यवस्था अधिकारी नवीन चन्द्र उप्रेती, संयुक्त मजिस्ट्रेट अभिषेक रौहेला, अपर पुलिस अधीक्षक हरीश चन्द्र सती, जीएम केएमवीएन टीएस मर्तोलिया, उप जिलाधिकारी अशोक जोशी, ईओ रोहिताश शर्मा, उप निदेशक सूचना योगेश मिश्रा, अरविन्द पडियार, शैलेन्द्र बोरा, संतोष शाह, जीवन्ती बिष्ट, नितिन कार्की व अन्य अधिकारी मौजूद थे। कार्यक्रम का साफल सचालन वरिष्ठ उद्घोषक हेमन्त बिष्ट, नवीन पाण्डेय तथा मीनाक्षी कीर्ति ने करते हुए शमा बांध दिया।