Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश Good News: अब शिक्षकों का वेतनमान होगा असिस्टेंट प्रोफेसर के बराबर

Good News: अब शिक्षकों का वेतनमान होगा असिस्टेंट प्रोफेसर के बराबर

पिथौरागढ़- आपदा प्रभावितों को मिलेगा मुआवजा, पीड़ितों के चेहरे पर ऐसे लौटी मुस्कान

राज्य सरकार के साढ़े तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा होने के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पिथौरागढ़ में आपदा प्रभावितों को मकान की...

UPSEE Exam 2020: इस तारीख से होंगी प्रदेश के सभी पॉलिटेक्निक कॉलेजों की सेमेस्टर परीक्षाएं

प्रदेश के सभी पॉलिटेक्निक कॉलेजों (Polytechnic Colleges) में सेमेस्टर परीक्षाएं 25 सितंबर से शुरू होंगी। इसमें 50 सरकारी और 19 सहायता प्राप्त संस्थानों के...

Sushant Singh Rajput Wax Statue: यहां के कलाकार ने बनाया सुशांत सिंह राजपूत का पहला वैक्स स्टैच्यू, देखकर हो जाएंगे इमोशनल

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन को तीन महीने हो चुके हैं। इस केस को सीबीआई, ईडी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB)...

Panchayat Election 2020: पंचायत चुनाव की शुरू हुई तैयारियां, जाने इस बार कैसे होगा सीटों का आरक्षण

प्रदेश में पंचायत चुनाव (Panchayat Election) की तैयारियां शुरू हो गई हैं। प्रशासनिक स्तर पर तैयारियों के साथ ही चुनाव लड़ने के लिए दावेदार...

देहरादून- साढ़े तीन साल में त्रिवेन्द्र सरकार ने ऐसे किये 85 प्रतिशत वादे पूरेए पढिय़े कैसे किया स्वरोजगार पर फोकस

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य सरकार के साढ़े तीन वर्ष पूर्ण हो जाने बाद अपने 85 प्रतिशत वायदे पूरे किये है। मुख्मंत्री ने...

Salary Hike in New Education Policy: नई शिक्षा नीति में इंटर (inter) तक कि शिक्षकों का वेतन (salary) असिस्टेंट प्रोफेसर (assistant professor) के बराबर करने का प्रस्ताव है। एनसीईआरटी (NCERT) के सचिव मेजर हर्ष कुमार का कहना है कि नई शिक्षा नीति (New Education Policy) का प्रारूप तैयार हो गया है और इसे जल्द ही लागू कर दिया जाएगा। नई शिक्षा नीति में प्राथमिक (primary) से लेकर इंटर कॉलेज (inter college) तक के शिक्षकों का वेतन बढ़ाने का प्रस्ताव है।
teacher salary hike
एक कार्यक्रम के दौरान मेजर हर्ष कुमार ने बताया कि नई शिक्षा नीति के लिए लोगों से सुझाव मांगे गए थे। तकरीबन एक लाख लोगों ने ड्राफ्ट पॉलिसी (draft policy) पर सुझाव दिए। उन पर एनसीईआरटी एवं सीबीएसई (CBSE) के लोगों ने कार्यशाला कर मंथन किया है।

विशेषज्ञों की माने तो प्राथमिक, उच्च प्राथमिक एवं इंटरमीडिएट कॉलेज के शिक्षकों का वेतन असिस्टेंट प्रोफेसर (assistant professor) के बराबर कर दिया जाना चाहिए। इससे बुनियादी स्तर पर छात्रों को अच्छी शिक्षा मिलेगी और छात्र उच्च शिक्षा में बेहतर कर सकेंगे। विशेषज्ञों ने बताया कि केंद्र सरकार इसे मंजूरी मिलने के बाद ही प्रस्ताव को लागू कर दिया जाएगा।

Related News

पिथौरागढ़- आपदा प्रभावितों को मिलेगा मुआवजा, पीड़ितों के चेहरे पर ऐसे लौटी मुस्कान

राज्य सरकार के साढ़े तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा होने के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पिथौरागढ़ में आपदा प्रभावितों को मकान की...

UPSEE Exam 2020: इस तारीख से होंगी प्रदेश के सभी पॉलिटेक्निक कॉलेजों की सेमेस्टर परीक्षाएं

प्रदेश के सभी पॉलिटेक्निक कॉलेजों (Polytechnic Colleges) में सेमेस्टर परीक्षाएं 25 सितंबर से शुरू होंगी। इसमें 50 सरकारी और 19 सहायता प्राप्त संस्थानों के...

Sushant Singh Rajput Wax Statue: यहां के कलाकार ने बनाया सुशांत सिंह राजपूत का पहला वैक्स स्टैच्यू, देखकर हो जाएंगे इमोशनल

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन को तीन महीने हो चुके हैं। इस केस को सीबीआई, ईडी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB)...

Panchayat Election 2020: पंचायत चुनाव की शुरू हुई तैयारियां, जाने इस बार कैसे होगा सीटों का आरक्षण

प्रदेश में पंचायत चुनाव (Panchayat Election) की तैयारियां शुरू हो गई हैं। प्रशासनिक स्तर पर तैयारियों के साथ ही चुनाव लड़ने के लिए दावेदार...

देहरादून- साढ़े तीन साल में त्रिवेन्द्र सरकार ने ऐसे किये 85 प्रतिशत वादे पूरेए पढिय़े कैसे किया स्वरोजगार पर फोकस

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य सरकार के साढ़े तीन वर्ष पूर्ण हो जाने बाद अपने 85 प्रतिशत वायदे पूरे किये है। मुख्मंत्री ने...

उत्तराखंड- छात्रों और शिक्षकों के लिए काम की खबर, शिक्षा मंत्री ने किया ये ऐलान

कोविड-19 को देखते हुए केन्द्र सरकार के निर्देशों के बाद अब उत्तराखंड में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम को प्रदेश सरकार 30 प्रतिशत कम करने जा रही...