drishti haldwani

गर्भवती महिला को अस्पताल कर्मियों ने जबरन निकाला बाहर, महिला ने मजबूरन सडक़ पर दिया बच्चे को जन्म

293

उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर में किच्छा महिला अस्पताल का लचर नमूना एक बार फिर सामने आया है। यहा एक महिला को सडक़ पर बच्चे को जन्म देने के लिए मजबूर होना पड़ा। बताया जा रहा है कि अस्पताल के स्टाफ ने जबरन महिला को बाहर कर दिया। जिसके बाद महिला ने सडक़ पर ही बच्चे को जन्म दिया। प्रसव पीड़ा से परेशान महिला को उसके परिजन किच्छा समुदाय स्वास्थ्य केंद्र लेकर आए थे। अस्पताल प्रशासन को यह बात पता चली तो हडक़ंप मच गया। आनन फानन में उसे भर्ती किया गया। लेकिन राहत की बात ये रही कि जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ्य हैं।

iimt haldwani

hospital44

जानकारी के मुताबिक सुबह आपातकालीन सेवा 108 से एक गर्भवती महिला को किच्छा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां पर उसे डॉक्टरों द्वारा यह कहकर लौटा दिया गया कि उसे काला पीलिया है और उसकी डिलीवरी किच्छा के सामुदायिक अस्पताल में नही हो सकती है। जिसके बाद परिजन उसे हल्द्वानी ले ही जा रहे थे कि अस्पताल के बाहर महिला ने बच्चे को जन्म दे दिया। जैसे ही अस्पताल में यह बात पता चली तो हडक़ंप मच गया। आनन-फानन में महिला को अस्पताल में भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया।

kichha

मिली के अनुसार नाजुक सिरौली कला को आज सुबह 7 बजे सरकारी अस्पताल लाया गया था। जहां पर उसे काला पीलिया होने के चलते उसे हाई सेंटर ले जाने की बात कही गयी। जैसे ही उसे परिजन अस्पताल के बाहर ले कर सडक़ में पहुंचे तो उसे अचानक दर्द उठने लगा कुछ देर में उसने बच्चे को सडक़ में जन्म दे दिया। वहीं, अस्पताल के अधीक्षक ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में आया है। जांच के आदेश दिए गए है, दोषी व्यक्ति के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।