drishti haldwani

खेल महाकुंभ का आगाज , बेहतर स्वास्थ्य के लिए भी खेल जरूरी

134

हल्द्वानी -न्यूज टुडे नेटवर्क: शिक्षा, खेल, युवा कल्याण विभाग तथा पंचायती राज विभाग के संयुक्त तत्वाधान में शासन से निर्देशों के अनुसार जनपद में खेल महाकुंभ 2018 का आगाज गुरूवार को वानिकी प्रशिक्षण संस्थान के क्रीड़ा मैदान में हुआ 9 जनवरी तक खेल महाकुंभ का उद्घाटन अध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती सुमित्रा प्रसाद तथा जिलाधिकारी एवं अध्यक्ष आयोजन समिति श्री विनोद कुमार सुमन ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि द्वय ने रंग बिरंगे गुब्बारे छोड़े तथा विभिन्न विकास खण्डों से आये खिलाडिय़ों के मार्च पास्ट की सलामी भी ली।

iimt haldwani

schiool

खेल हमारे जीवन का महत्वपूर्ण पहलू : सुमित्रा

अपने सम्बोधन में अध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती सुमित्रा प्रसाद ने कहा कि खेल हमारे जीवन का वह महत्वपूर्ण पहलू है जो हमें आगे बढऩे का रास्ता दिखाता हैं, वहीं बेहतर स्वास्थ्य के लिए भी खेल जरूरी हैं। उन्होंने प्रतियोगी खिलाडिय़ों से कहा कि वह पूरी मेहनत के साथ प्रतियोगिता में भाग लें ताकि उनका चयन राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के लिए हो सके और प्रदेश स्तर पर जनपद नैनीताल का परचम बुलन्द हो सके।

खेल हमारे जीवन का महत्वपूर्ण अंग : जिलाधिकारी

इस अवसर पर जिलाधिकारी सुमन ने कहा कि खेल हमारे जीवन का महत्वपूर्ण अंग है जोकि हमें अनुशासन और प्रतिस्पर्धा की सीख देता है। प्रतियोगिताएं हमेंशा हमें जीवन में आगे बढऩे का संदेश देती हैं, वहीं हमारे व्यक्तित्व का विकास भी करती हैं। उन्होंने कहा कि खेल हमेशा जीवन का लक्ष्य निर्धारित करने में भी सहयोगी होते हैं। उन्होंने कहा कि जीवन में जीत के साथ ही हार भी एक दूसरा पहलू है जोकि हमें प्रभावी तैयारियॉ करने का संदेश देता है।

school3

जिलाधिकारी ने बढ़ाया खिलाडिय़ों का हौसला

सुमन ने खिलाडिय़ों का हौंसला बढ़ाते हुए कहा कि बच्चों में लक्ष्य हासिल करने की दृढ़ इच्छा शक्ति होनी चाहिए तथा लक्ष्य को हासिल करने के लिए आलस्य को त्याग कर निरन्तर कठोर परिश्रम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जीतने के स्थान पर खेलों में प्रतिभाग करना सबसे महत्वपूर्ण है। हार और जीत खेल का ऐसा हिस्सा है जिसके बिना खेलों में मनोंरजन, रामांचकता की परिकल्पना करना भी व्यर्थ है। उन्होंने कहा कि किसी भी खिला?ी को हार से निराश नहीं होना, बल्कि हार के कारणों पर मंथन करते हुए अपनी कमजोरियों को चिन्हित करते हुए, उन्हें दूर करने की पूरी कोशिश करनी चाहिए।

ये लोग रहे मौजूद

कार्यक्रम का संचालन हेमन्त बिष्ट, नवीन पाण्डे, मीनाक्षी कीर्ति ने किया।उद्घाटन सत्र में अपर जिलाधिकारी हरबीर सिंह, उप निदेशक सूचना योगेश मिश्रा, उप निदेशक खेल अखतर अली, जिला युवा कल्याण अधिकारी दीप्ति जोशी, खण्ड शिक्षा अधिकारी कमलेश्वरी मेहता, खेल प्रशिक्षक ममता सहित सभी विकासखण्डों के प्रतिभागी उपस्थित थे।