inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश गोरखपुर से नि:शुल्क कोचिंग की शुरूआत, आईपीएस, आईएएस और पीसीएस करेंगे छात्रों...

गोरखपुर से नि:शुल्क कोचिंग की शुरूआत, आईपीएस, आईएएस और पीसीएस करेंगे छात्रों का मार्गदर्शन

न्‍यूज टुडे नेटर्वक। सरकार ने प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए नि:शुल्‍क कोचिंग की व्‍यवस्‍था की है। यूपी में गोरखपुर से इस सुविधा की शुरूआत की जाएगी। यहां गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापनकर रहे परिवारों के छात्रों को नि:शुल्‍क कोचिंग सुविधा मिलेगी। दरअसल कई छात्र उच्‍च शिक्षा के बाद प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं लेकिन धन के अभाव में वे बेहतर कोचिंग नहीं ले पाते हैं। तमाम ऐसे छात्रों को अपने लक्ष्‍य को बीच में ही छोड़ना पड़ जाता है। प्रदेश की योगी सरकार ने ऐसे निर्धन छात्रों की सुविधाओं के मद्देनजर यह सुविधा शुरू कराई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की घोषणा को जमीन पर उतारते हुए गोरखपुर मण्डल मुख्यालय पर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए निशुल्क कोचिंग की शुरूआत की गई है। जिला प्रशासन इसकी शुरूआत एक फरवरी से सिविल सर्विसेज की परीक्षाओं की तैयारी के लिए 3 माह के प्रोजेक्ट से कर रहा है। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा कोई भी छात्र इस निशुल्क कोचिंग के लिए जिला प्रशासन की वेबसाइट gorakhpur.nic.in पर दिए लिंक पर आवेदन कर सकता है।

सीडीओ इंद्रजीत सिंह ने कहा कि इस पहल के साथ गोरखपुर जिला मुख्यमंत्री की योजना पर अमल करने वाला पहला मण्डल मुख्यालय बन गया है। उन्होंने बताया कि सीएम की घोषणा के बाद जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पाण्डियन के मार्गदर्शन में यह पहल शुरू की गई है। एक दिन में आवेदन करने वाले छात्रों की काउंसिलिंग अगले दिन ही होगी। आवेदन करने वाले छात्रों का चयन काउंसिलिंग के जरिए होगा। उनकी रुचि के जरिए सिविल सर्विसेज, बैंकिंग, एसएससी, पीसीएस-जे समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए प्रेरित किया जाएगा।

इस निशुल्क कोचिंग में आईएएस-पीसीएस समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए नार्मल परिसर में निशुल्क कोचिंग सेंटर के भवन का निर्माण अंतिम चरण में है। यहां 200 छात्रों को सुविधा मिलेगी, 100 छात्रों के लिए छात्रावास भी उपलब्ध होगा। केंद्र का निर्माण पूर्ण होने तक विकास भवन सभागार में कक्षाएं चलेगी। इस दौरान बैठके दूसरे स्थानों पर होंगी।

निशुल्क कोचिंग में शिक्षक के रूप में जिले में तैनात युवा आईएएस, पीसीएस  और आईपीएस अधिकारी छात्रों का मार्गदर्शन करेंगे। ये अधिकारी अपने नोट्स भी शेयर करेंगे। प्रथम चरण में तीन माह तक सिर्फ सामान्य अध्ययन की कक्षाएं संचालित की जाएंगी। जिला स्तर के अधिकारियों के साथ ब्लाकों पर तैनात बीडीओ भी इसमें सहयोग करेंगे। इसके साथ ही गोरखपुर विश्वविद्यालय व अन्य विषय विशेषज्ञों का भी सहयोग मिलेगा। प्रतियोगी छात्रों को निशुल्क पुस्तकें उपलब्ध कराने के लिए शहर की पांच पब्लिक लाइब्रेरी को भी जोड़ा जा रहा है।

Related News

कपड़े बदल रही बहन के मुंहबोली बहन ने खींच लिए फ़ोटो, अब कर रही ऐसा काम

न्यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। मुंहबोली बहन ने युवती के कपड़े बदलते फोटो व वीडियो बना ली। अब वह वायरल करने की धमकी दे रही...

Bareilly-प्रभारी मंत्री श्रीकांत बोले-अफसर कार में नहीं, बाइक से घूमकर लें विकास कार्यों का जायजा

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री व जनपद के प्रभारी मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने शुक्रवार को जिले में चल रहे...

Bareilly-आईकन क्रिएटॉस इंक्यूबेटर सेंटर की तरफ से नारायण कॉलेज में स्टार्ट अप पर सेमिनार, छात्रों की जिज्ञासाएं भी दूर कीं

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट लोकल फॉर वोकल, आत्‍मनिर्भर भारत को लेकर शुक्रवार को नारायण कॉलेज में आईकन क्रिएटॉस...

Shahjahanpur-पिता के साथ छात्रा रोज जाती थी कॉलेज फिर भी हो गई ऐसी वारदात

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, शाहजहांपुर। आम के बाग में अधजली हालत में मिली एसएस कॉलेज की छात्रा के मामले में पुलिस ने उसकी सहेली सहित...

एयरपोर्ट विस्तार के साथ जल्द अयोध्या से शुरू हो जाएगी हवाई सेवा

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अयोध्या एयरपोर्ट को अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनाने के प्रस्ताव पर भारत सरकार ने अपना अनुमोदन दिया...

बरेली: पति ने ही लूट लिया बीवी का 7 तोले सोना और 5 लाख कैश, जानिये कैसे

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। लड़की के माता-पिता का देहान्‍त हो जाने पर युवक ने युवति को अपने प्रेमजाल में फसाया और उसकी सारी जमा...