Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तराखंड देहरादून- ये शातिर नौकरी दिलाने के बहाने ऐसे डालते थे लोगो की...

देहरादून- ये शातिर नौकरी दिलाने के बहाने ऐसे डालते थे लोगो की जेबों में डाका,अपनाते थे ये तरीका

देखिए कोरोना से ऊधमसिंह नगर के एक बड़े नेता की मौत, भाजपा में शोक की लहर

रुद्रपुर । जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन नरेंद्र मानस का कोरोना के चलते एम्स ऋषिकेश में निधन हो गया । वह बीस दिन पहले...

देहरादून- राज्य में ऊर्जा उत्पादन को लेकर ये है त्रिवेन्द्र सरकार का प्लान, फार्मिंग के लिए शुरू किया ये कॉन्सेप्ट

राज्य में ऊर्जा उत्पादन को लेकर उत्तराखंड सरकार लगातार काम कर रही हैं। सरकार द्वारा विभिन्न सरकारी योजनाओं के जरिए भी लोगों को ऊर्जा...

देहरादून- इस मेडिकल काॅलेज को मिली एमबीबीएस कोर्स कराने की अनुमति, त्रिवेन्द्र सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

उत्तराखंड में चिकित्सा शिक्षा पद्दी को देखते हुए त्रिवेन्द्र सरकार ने एक अहम निर्णय लिया है, त्रिवेन्द्र सरकार के इस फैसले के कारण आज...

उत्तराखंड- अयोध्या ढांचा विध्वंस मामले में कोर्ट ने इनको किया बरी, सीएम त्रिवेन्द्र ने कही ये बात

अयोध्या ढांचा विध्वंस मामले में लखनऊ में सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया और सभी आरोपितो को बरी कर दिया। कोर्ट के...

रामनगर- कार्बेट के बाद अब यहां मस्ती कर सकेंगे पर्यटक, तैयारियों में जुटा वन विभाग

उत्तराखंड में जैसे-जैसे नया पर्यटन सीजन शुरू हो रहा है। वैसे पर्यटकों के लिए बंद पड़े पर्यटन स्थालों को खोला जा रहा है। कार्बेट...
Uttarakhand Government

देहरादून- न्यूज टुडे नेटवर्क: एम्स ऋषिकेश में विभिन्न पदों पर नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने गिरोह के आठ सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में खुलासे करते हुए पुलिस ने जानकारी दी कि 21 जनवरी को पारस कुमार पुत्र धनी राम निवासी बीएसएम चौक थाना गंग नहर रुड़की ने मुकदमा दर्ज कराया था कि दीपक गोवारी पुत्र इंद्र गोवारी ने उससे अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में नौकरी के लिए ढाई लाख रुपए लिए और एक फर्जी नियुक्ति पत्र दिया। मिली शिकायत के आधार पर की गई जांच में पता चला कि दीपक और उसके साथियों ने नौकरी दिलाने के नाम पर कई लोगों से लाखों रुपए की धोखाधड़ी की है। जिसके बाद मामले की जांच के लिए गठिक पुलिस टीम ने एम्स के विभिन्न विभागों के सीसीटीवी फुटेज के साथ मोबाइल नंबर की जांच की।


Uttarakhand Government

Uttarakhand Government

पूछताछ में सामने आए तीन अन्य नाम

बता दें कि मामले में गिरोह के आठ सदस्यों को गिरफ्तार किया है। वही मौके में पुलिस को इनके पास से एक स्कॉर्पियो कार, 12 मोबाइल, एम्स के फर्जी नियुक्ति पत्र, एक लैपटॉप, एक लाख सत्तर हजार रुपए की नगदी बरामद की गर्इ है। फर्जी नियुक्ति पत्रों में एम्स के निदेशक प्रो. रविकांत के फर्जी हस्ताक्षर पाए गए हैं। गिरफ्तार लोगों की पहचान पुलिस ने दीपक गोवारी पुत्र इंदर सिंह निवासी कैनाल रोड थाना राजपुर, सागर पांडे पुत्र हेम चंद्र पांडे निवासी आवास विकास कॉलोनी ऋषिकेश, चिराग गर्ग पुत्र ब्रिज भूषण गर्ग निवासी पार्क रोड थाना पटेल नगर, विक्रम सिंह बिष्ट पुत्र वीरेंद्र सिंह बिष्ट प्रगति पुरम कॉलोनी श्यामपुर थाना, अब्दुल कादिर अंसारी पुत्र मोहम्मद आसिफ अंसारी निकट गुप्ता स्टोर चाणक्य मार्ग सुभाष नगर थाना क्लेमेंट टाउन, अजय रावत पुत्र नरेंद्र सिंह रावत निवासी ग्राम थारी हलदुआ थाना रामनगर, अमित भारती पुत्र अमी चंद निवासी ग्रीन पार्क निरंजनपुर थाना पटेल नगर और अभिषेक पुत्र भवानी निवासी शास्त्री एनक्लेव सुभाष नगर थाना क्लेमेंट टाउन के नाम से कराई है। पुलिस ने बताया कि इन सब से पूछताछ के बाद तीन अन्य लोगों के भी नाम सामने आए हैं। जिनकी गिरफ्तारी के लिए टीम भेजी जा रही है।

Uttarakhand Government
Uttarakhand Government

Related News

देखिए कोरोना से ऊधमसिंह नगर के एक बड़े नेता की मौत, भाजपा में शोक की लहर

रुद्रपुर । जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन नरेंद्र मानस का कोरोना के चलते एम्स ऋषिकेश में निधन हो गया । वह बीस दिन पहले...

देहरादून- राज्य में ऊर्जा उत्पादन को लेकर ये है त्रिवेन्द्र सरकार का प्लान, फार्मिंग के लिए शुरू किया ये कॉन्सेप्ट

राज्य में ऊर्जा उत्पादन को लेकर उत्तराखंड सरकार लगातार काम कर रही हैं। सरकार द्वारा विभिन्न सरकारी योजनाओं के जरिए भी लोगों को ऊर्जा...

देहरादून- इस मेडिकल काॅलेज को मिली एमबीबीएस कोर्स कराने की अनुमति, त्रिवेन्द्र सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

उत्तराखंड में चिकित्सा शिक्षा पद्दी को देखते हुए त्रिवेन्द्र सरकार ने एक अहम निर्णय लिया है, त्रिवेन्द्र सरकार के इस फैसले के कारण आज...

उत्तराखंड- अयोध्या ढांचा विध्वंस मामले में कोर्ट ने इनको किया बरी, सीएम त्रिवेन्द्र ने कही ये बात

अयोध्या ढांचा विध्वंस मामले में लखनऊ में सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया और सभी आरोपितो को बरी कर दिया। कोर्ट के...

रामनगर- कार्बेट के बाद अब यहां मस्ती कर सकेंगे पर्यटक, तैयारियों में जुटा वन विभाग

उत्तराखंड में जैसे-जैसे नया पर्यटन सीजन शुरू हो रहा है। वैसे पर्यटकों के लिए बंद पड़े पर्यटन स्थालों को खोला जा रहा है। कार्बेट...

उत्तराखंड- 1 अक्टूबर से लागू होंगे ये यातायात नियम, जरूर पढ़े नहीं तो झेलनी पड़ सकती है फजीहत

उत्तराखंड में अब पुलिस द्वारा चालान करने और वाहन के कागज चैक करने जैसी सारी प्रक्रिया ऑनलाईन होगी। संबंधित जांच अधिकारी को डिजिलॉकर अथवा...
Uttarakhand Government