inspace haldwani
inspace haldwani
Home आध्यात्मिक पटाखों जलाते समय बरते सावधानी, नहीं तो आंखों को हो सकता है...

पटाखों जलाते समय बरते सावधानी, नहीं तो आंखों को हो सकता है ये नुकसान

काशी: क्रूज पर सवार होकर बाबा विश्वनाथ के दर्शनों कों पहुंचे पीएम मोदी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। वाराणसी में बाबा काशी विश्‍वनाथ के दर्शन करने पीएम मोदी क्रूज से पहुंचे हैं। मोदी आज सोमवार दोपहर काशी पहुंचे। शाम...

काशी में बोले पीएम मोदी- कृषि कानूनों पर किसानों को भ्रम में डाला जा रहा है

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। किसानों के आंदोलन के बीच प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि कृषि कानूनों को लेकर किसानों के बीच भ्रम फैलाया...

वाराणसी: भव्य दीपदान महोत्सव की तैयारियां पूरी, पीएम मोदी बनारस पहुंचे

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। देव दीपावली के भव्‍य दीपदान उत्‍सव का दीदार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी वाराणसी पहुंच गए हैं। देव दीपावली उत्‍सव...

बिहार के भोजपुर में रोक के बावजूद हर्ष फायरिंग, दुल्हन के भाई को लगी गोली

न्यूज टुडे नेटवर्क। हर्ष फायरिंग पर सरकार ने रोक लगाई हुई है। बावजूद इसके शादीसमारोह आदि में हर्ष फायरिंग के मामलों में कमी नहीं...

राजनाथ आज करेंगे अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा, लखनऊ पहुंचे, मंत्रियों, विधायकों ने किया रिसीव

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। रक्षामंत्री राजनाथ सिहं आज अपने संसदीय क्षेत्र का एक दिनी दौरा करेंगे। दौरे के लिए अभी कुछ देर पहले ही रक्षामंत्री...

दिवाली का त्योहार पूरे देश में बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता हैं। पटाखों की गूंज और रोशनी से यह त्योहार धमाकेदार हो जाता हैं। हांलाकि पटाखें ना जलाने में ही समझदारी हैं क्योंकि यह पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के साथ ही आपको भी नुकसान पहुंचा सकते हैं। खासतौर से पटाखों का धुआं आपको आंखों कू रोशनी छीन सकता हैं। पटाखों के धुंए से आंखों में जलन होती हैं और कई आंसू आने लगते हैं। ऐसे में पटाखे जलाते समय सावधानी बरतना बहुत जरूरी होता हैं। आज हम आपके लिए इससे जुड़ी जानकारी लेकर आए हैं जो आपकी आंखों को पटाखे के धुंए से होने वाले नुकसान से बचाएगी।


डॉ. विमलेश शर्मा का कहना है कि दिवाली पर पटाखे, फुलझडिय़ां जलाना हमारी वर्षों पुरानी परम्परा है। पटाखे की आवाजों, चमक व खुशी कुछ ही पल में खत्म हो जाती है। लेकिन उससे होने वाला प्रदूषण काफी समय तक रहता है। ऐसे में बच्चों और बुजुर्गो व श्वास रोगियों पर इस प्रदूषण का बहुत बुरा असर पड़ता है। हमें बिना धुएं वाले पटाखे जलाने चाहिए। मास्क लगाकर पटाखे जलाये। बच्चों का पटाखे न जलाने दे बल्कि पटाखे जलाने में बड़ों की मदद ले।

आइये जानते है दिवाली प्रदूषण के मुख्य कारक-

सल्फर डाई ऑक्ससाइड, लैड, मैग्रिशियम, नाइट्रेट जो कि पटाखों के मुख्य तत्व है, अनके सांस संबंधी रोगों का कारण हो सकते है। पटाखें बहुत वायु प्रदूषण करते है व ग्लोबल वार्मिग का बड़ा कारण है। इसके अलावा पटाखों की तीव्र आवाज से ध्वनि प्रदूषण होता है। 90 डेसीबल से ऊपर की आवाज से नर्वस ब्रेकडाउन व बहरापन हो सकता है।
पटाखों से आकस्मिक चोटें जैसे जलाना या शरीर के किसी अंग जैसे आंख आदि में पटाखों से चोट पहुंच सकती है। यहां तक की आंख की चोट से अंधापन भी हो सकता है। दिवाली के बाद सुबह-सुबह केमिकल युक्त चारों तरफ दिखने वाली कूड़ा है। दिवाली में पटाखे जलाना सीधे-सीधे पैसों में आग लगाने जैसा ही है। कितने घरों में अंधेरा है व खाने का भोजन नहीं है। इन पैसों से हम ऐसे लोगों की मदद कर सकते है। यही मानवता है व सच्ची दिवाली है।

 

 

 

 

 

Related News

काशी: क्रूज पर सवार होकर बाबा विश्वनाथ के दर्शनों कों पहुंचे पीएम मोदी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। वाराणसी में बाबा काशी विश्‍वनाथ के दर्शन करने पीएम मोदी क्रूज से पहुंचे हैं। मोदी आज सोमवार दोपहर काशी पहुंचे। शाम...

काशी में बोले पीएम मोदी- कृषि कानूनों पर किसानों को भ्रम में डाला जा रहा है

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। किसानों के आंदोलन के बीच प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि कृषि कानूनों को लेकर किसानों के बीच भ्रम फैलाया...

वाराणसी: भव्य दीपदान महोत्सव की तैयारियां पूरी, पीएम मोदी बनारस पहुंचे

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। देव दीपावली के भव्‍य दीपदान उत्‍सव का दीदार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी वाराणसी पहुंच गए हैं। देव दीपावली उत्‍सव...

बिहार के भोजपुर में रोक के बावजूद हर्ष फायरिंग, दुल्हन के भाई को लगी गोली

न्यूज टुडे नेटवर्क। हर्ष फायरिंग पर सरकार ने रोक लगाई हुई है। बावजूद इसके शादीसमारोह आदि में हर्ष फायरिंग के मामलों में कमी नहीं...

राजनाथ आज करेंगे अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा, लखनऊ पहुंचे, मंत्रियों, विधायकों ने किया रिसीव

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। रक्षामंत्री राजनाथ सिहं आज अपने संसदीय क्षेत्र का एक दिनी दौरा करेंगे। दौरे के लिए अभी कुछ देर पहले ही रक्षामंत्री...

कोरोना संकट:जम्मू कश्मीेर में अभी 31 दिसंबर तक शैक्षिक संस्‍थान बंद रखने का आदेश

न्यूज टुडे नेटवर्क। जम्‍मू कश्‍मीर में अभी 31 दिसंबर तक  सभी शैक्षणिक संस्थान बंद रखने का आदेश जारी किया है। शासन की ओर से...