Fight Against Corona: बरेली में तैयार हो चुके हैं 6 आइसोलेटेड कोच, अभी इतने और बनने हैं बाकी

कोरोना से निपटने के लिए बरेली के इज्जतनगर रेलवे वर्कशाप (Railway Workshop) में आइसोलेटेड कोच (isolated coach) बनाने का काम शुरू हो गया है। इन आइसोलेटेड कोच को प्लेटफार्म और पानी की टंकी (platform and water tank) वाली जगह पर रखा जाएगा। एक आइसोलेटेड कोच में 8 मरीजों को आइसोलेट करने की सुविधा है। रेलवे वर्कशाप में 57 आइसोलेटेड कोच बनाए जाने हैं।
isolation ward in train
रेलवे बोर्ड ने उत्तर पूर्व रेलवे (North eastern Railway) को 216 आइसोलेटेड कोच बनाने के निर्देश दिए हैं। जिसमें 57 आइसोलेटेड कोच इज्जतनगर रेलवे वर्कशाप (Izzatnagar railway workshop) में बनाया जाना है। रेलवे वर्कशाप ने एक अप्रैल से तीन अप्रैल तक छह आइसोलेटेड कोच बना दिए हैं। एक कोच में केवल आठ मरीजों के बेड बनाए गए हैं। इसके अलावा डॉक्टर और स्टाफ के लिए केबिन (Cabin) अलग है। दोनों टायलेट को हटाकर एक बाथरूम बनाया गया है।

मुख्य कारखाना प्रबंधक राजेश अवस्थी का कहना है कि 15 साल पुराने कोचों को आइसोलेटेड कोच में तब्दील किया गया है। एक कोच को तैयार करने की लागत करीब दो लाख रुपये आएगी। इसके अलावा वर्कशाप में महिला स्टाफ एक दिन में चार सौ मास्क (Mask) तैयार कर रही है। अब तक पांच सौ लीटर सैनिटाइजर (Sanitizer) तैयार किया जा चुका है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें