inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश किसान आंदोलन: माहौल गरमाया, जयंत चौधरी टिकैत से मिलने पहुंचे, अजीत सिंह...

किसान आंदोलन: माहौल गरमाया, जयंत चौधरी टिकैत से मिलने पहुंचे, अजीत सिंह का समर्थन का ऐलान 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा के बाद पिछले दो दिनों से पुलिस के कड़े एक्शन के चलते ऐसा लग रहा था कि शुक्रवार तक किसान आंदोलन शायद खत्म ही हो जाए। लेकिन गुरुवार की रात भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत के इमोशनल दांव के बाद किसानों का आंदोलन और तेज होता नजर आ रहा है। शुक्रवार को राष्ट्रीय लोक दल के नेता जयंत चौधरी टिकैत से मिलने गाजीपुर बॉर्डर पहुंच गए हैं। जयंत ने कहा कि सरकार किसानों को हटाने का दबाव बना सकती है लेकिन किसान अपने मुद्दों को छोड़कर आंदोलन से नहीं हटेंगे।

जयंत चौधरी ने मांग की कि किसानों का मुद्दा संसद में उठाकर सुनवाई होनी चाहिए। इस मसले पर मुजफ्फरनगर में आज किसानों ने महापंचायत बुलाई है। बताया जा रहा है कि राकेश टिकैत गुरुवार को धरना स्थल से हटने को तैयार हो गए थे लेकिन भाजपा विधायक नंदकिशोर के धमकी देने के बाद टिकैत का गुस्‍सा भड़क गया। पूरे घटनाक्रम के तुरंत बाद नरेश टिकैत भी समर्थकों के साथ वहां पहुंच गए और किसान आंदोलन जारी रखने की बात कही।

टिकैत ने कहा कि अब तीनों काले कानूनों का निपटारा करके ही लौटेंगे। खबर है कि भाजपा के विधायक नंदकिशोर अपने समर्थकों के साथ आंदोलन स्थल पर पहुंचे, उन्होंने पुलिस से कहा कि आंदोलनकारियों को रविवार तक हटा दें, वरना हम इस मसले को निपटा लेंगे। भाजपा विधायक के बयान के बाद टिकैत भड़क गए। उन्होंने कहा कि भाजपा भाजपा का विधायक पुलिस फोर्स लेकर किसानों को मारने आया है। इसलिए अब हम कहीं नहीं जा रहे हैं।

इसके बाद गरमाई आंदोलन की सियासत ने नया मोड़ ले लिया रात के 10:00 बजे राकेश टिकैत ने ऐलान कर दिया कि हर किसान गाजीपुर पहुंचेगा। रात 10:00 बजे के बाद ही मुजफ्फरनगर के सिसौली गांव में राकेश टिकैत के घर पर गाजीपुर कूच के नारे लगाते हुए किसानों की भीड़ जुटने लगी। इसी बीच जाट नेता और राष्ट्रीय लोक दल प्रमुख अजीत सिंह ने राकेश टिकैत से फोन पर बात की और आंदोलन को समर्थन देने की घोषणा कर दी।

इसके साथ ही पूरे मामले में जाट पॉलिटिक्स प्रवेश कर गई रात को 11:00 बजे से ही मेरठ,  मुजफ्फरनगर ,गाजियाबाद ,शामली और बागपत से लोगों ने गाजीपुर के लिए कूच करना शुरू कर दिया। यूपी के अलावा हरियाणा में भी कई खापों ने किसान आंदोलन में पहुंचने का ऐलान कर दिया है कि वह भी दिल्ली बॉर्डर पर पहुंचेंगे। हरियाणा के भिवानी से 1000 ट्रैक्टर किसान लेकर रवाना हो गए हैं।  हालात खराब होते देख गाजीपुर बॉर्डर पर कार्रवाई के आदेश के इंतजार में तैनात पुलिस फोर्स भी पीछे हटनी शुरू हो गई।

Related News

उत्‍तर प्रदेश में सभी किसानों का बनेगा क्रेडिट कार्ड,  15 अप्रैल तक चलेगा महाअभियान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क।  उत्‍तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों को क्रेडिट कार्ड से जोड़ने के लिए एक बड़ी पहल की है। उत्तर...

बरेली: पंचायत चुनाव को लेकर संतोष सिंह ने जारी किये दिशा निर्देश, कार्यकर्ताओं से एकजुट होकर प्रत्‍याशी को जिताने का किया आह्वान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। भारतीय जनता पार्टी के सिविल लाइन्स स्थित कार्यालय पर जिले के पदाधिकारियों की एक बैठक का आयोजन हुआ। इसमें बैठक...

उज्‍जेन: भूगर्भीय हलचल के चलते हो रहे है शिप्रा में धमाके, धमाके के बाद 10 फिट तक उछला पानी, किसी आपदा की चेतावनी या...

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उज्जैन मध्‍यप्रदेश में शिप्रा नदी के त्रिवेणी घाट पर कुछ दिनों से तेज धमाकों के बाद आग की लपटें निकल रही...

टेस्टिंग कार्य पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश, फोकस टेस्टिंग किए जाने पर बल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने कोविड-19 से बचाव व उपचार की प्रभावी व्यवस्था को बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि संक्रमण की...

मुख्यमंत्री ने वरासत अभियान को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने वरासत अभियान को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अभियान के...

Priyanka Chopra ने न्यूयॉर्क में खोला भारतीय रेस्टोरेंट

न्यूूूज टुु़ु़ु़ु़डे नेटवर्क। प्रेयंका चोपड़ा ने विदेश में रहने वाले अपने भारतीय फैंस को बड़ा तोहफा दिया है। अपने अभिनय के बाद उन्होंने भारतीय...