बंगाल मवेशी तस्करी मामले में सीबीआई ने 13 ठिकानों पर छापेमारी

नई दिल्ली, 3 अगस्त (आईएएनएस)। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने बुधवार को राज्य में पशु तस्करी मामले की चल रही जांच में दो व्यक्तियों की कोलकाता और पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले सहित 13 जगहों पर तलाशी अभियान चलाया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।
 | 
बंगाल मवेशी तस्करी मामले में सीबीआई ने 13 ठिकानों पर छापेमारी नई दिल्ली, 3 अगस्त (आईएएनएस)। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने बुधवार को राज्य में पशु तस्करी मामले की चल रही जांच में दो व्यक्तियों की कोलकाता और पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले सहित 13 जगहों पर तलाशी अभियान चलाया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के एक अधिकारी ने कहा, तलाशी के दौरान, 17 लाख रुपये की नकदी, 10 मोबाइल फोन, पेन ड्राइव, हार्ड डिस्क सहित इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, कई आपत्तिजनक दस्तावेज और एक लॉकर की चाबी बरामद की गई है।

इस मामले में तृणमूल कांग्रेस के नेता अनुब्रत मंडल पर भी मुकदमा चल रहा है।

chaitanya

सितंबर 2020 में, सीबीआई ने भारत-बांग्लादेश सीमा के माध्यम से मवेशियों की तस्करी के संबंध में रैकेट के सरगना मोहम्मद इनामुल हक, बीएसएफ कमांडेंट सतीश कुमार और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की।

हक को सीबीआई ने नवंबर 2020 में बीएसएफ अधिकारियों को कथित रूप से रिश्वत देने के आरोप में गिरफ्तार किया था, ताकि वह अपने अवैध, सीमा पार मवेशी तस्करी के कारोबार को चला सके।

सीबीआई को अपनी जांच में पता चला था कि हक कथित तौर पर 1,000 करोड़ रुपये का हवाला रैकेट चला रहा था। वह बीएसएफ अधिकारियों को मोटी रिश्वत दे रहा था।

तृणमूल नेता विनय मिश्रा और उनके भाई विकास मिश्रा भी कथित तौर पर इस मामले में शामिल थे। मार्च 2021 में, प्रवर्तन निदेशालय ने विकास मिश्रा को गिरफ्तार किया था और हवाला चैनलों के माध्यम से हक से कथित रूप से धन प्राप्त करने के लिए विनय मिश्रा की संपत्ति को कुर्क किया था।

--आईएएनएस

एचके/एएनएम