पेगासस जासूसी मामले पर अमरिंदर ने कहा, यह राष्ट्रीय सुरक्षा पर शर्मनाक हमला

चंडीगढ़, 19 जुलाई (आईएएनएस)। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सोमवार को शीर्ष राजनीतिक नेताओं, पत्रकारों, व्यापारियों, वैज्ञानिकों, संवैधानिक अधिकारियों और अन्य लोगों के निजी फोन की कथित हैकिंग की निंदा करते हुए इसे केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा न केवल व्यक्तिगत गोपनीयता पर बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा पर भी शर्मनाक हमला बताया।
 | 
पेगासस जासूसी मामले पर अमरिंदर ने कहा, यह राष्ट्रीय सुरक्षा पर शर्मनाक हमला चंडीगढ़, 19 जुलाई (आईएएनएस)। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सोमवार को शीर्ष राजनीतिक नेताओं, पत्रकारों, व्यापारियों, वैज्ञानिकों, संवैधानिक अधिकारियों और अन्य लोगों के निजी फोन की कथित हैकिंग की निंदा करते हुए इसे केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा न केवल व्यक्तिगत गोपनीयता पर बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा पर भी शर्मनाक हमला बताया।

जैसे ही कथित पेगासस स्पाइवेयर को लेकर रिपोर्ट्स सामने आई हैं, इसे लेकर विपक्ष लगातार सरकार को घेर रहा है। संसद के भीतर और बाहर इस मुद्दे पर राजनीति गर्माई हुई है।

सिंह ने इसे केंद्र सरकार द्वारा भारत की लोकतांत्रिक राजनीति पर चौंकाने वाला हमला करार दिया।

chaitanya

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस तरह की जासूसी के साथ, जो कि केंद्र सरकार की अनुमति के बिना इजरायली कंपनी द्वारा नहीं की जा सकती थी। एनडीए सरकार ने देश के खिलाफ इसका दुरुपयोग करने की क्षमता के साथ विभिन्न वैश्विक एजेंसियों, सरकारों और संगठनों के हाथों में संवेदनशील जानकारी डाल दी।

उन्होंने कहा, यह न केवल व्यक्तिगत स्वतंत्रता पर बल्कि हमारे देश की सुरक्षा पर भी हमला है। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से मामले का स्वत: संज्ञान लेने और एनडीए सरकार के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया।

अमरिंदर सिंह ने चुटकी लेते हुए कहा, केंद्र सरकार इससे दूर नहीं हो सकती। उन्होंने एक जघन्य पाप किया है और उन्हें इसकी कीमत चुकानी होगी।

अमरिंदर सिंह ने कहा, दुनिया के किसी भी हिस्से में किसी भी सरकार ने पहले कभी भी अपने संस्थानों और लोगों की सुरक्षा को इस तरह से दांव पर नहीं लगाया है।

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम