पलानीस्वामी ने स्टालिन से मांगा वैक्सीन डेटा पर श्वेत पत्र

चेन्नई, 17 जुलाई (आईएएनएस)। तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने शनिवार को एम.के. स्टालिन को कोविड -19 टीकों और इसके उपयोग पर एक श्वेत पत्र प्रकाशित करने के लिए कहा।
 | 
पलानीस्वामी ने स्टालिन से मांगा वैक्सीन डेटा पर श्वेत पत्र चेन्नई, 17 जुलाई (आईएएनएस)। तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने शनिवार को एम.के. स्टालिन को कोविड -19 टीकों और इसके उपयोग पर एक श्वेत पत्र प्रकाशित करने के लिए कहा।

पलानीस्वामी, जो अन्नाद्रमुक के संयुक्त समन्वयक भी हैं, उन्होंने तमिलनाडु सरकार से एक श्वेत पत्र की मांग की, जिसमें (ए) केंद्र सरकार द्वारा पिछले दो महीनों में राज्य को आपूर्ति की गई वैक्सीन की खुराक की संख्या, ( बी) कितने लोगों को डोज दिया गया, (सी) कितने लोगों को दूसरा डोज दिया जाना है, (डी) केंद्र सरकार से प्राप्त टीकों को जिलों में कैसे वितरित किया जाता है और (ई) टीकाकरण केंद्रों पर खुराक के लिए सभी को प्राथमिकता दी गई।

chaitanya

पलानीस्वामी ने लोगों के टीकाकरण, उसके वितरण और अन्य पहलुओं पर योजना की कमी के लिए द्रमुक सरकार को दोषी ठहराया है।

उन्होंने सत्ता में नहीं रहते हुए कोविड -19 वैक्सीन के बारे में डराने के लिए स्टालिन और विपक्ष के अन्य नेताओं को भी दोषी ठहराया।

पलानीस्वामी ने कहा कि द्रमुक सरकार जैसे वैश्विक टेंडर के माध्यम से सीधे टीके की सोसिर्ंग, पास एचएलएल बायोटेक की सुविधा में वैक्सीन का निर्माण और बाजार से वैक्सीन का स्रोत को लेकर लोगों से झूठे वादे कर रही है।

--आईएएनएस

एचके/एएनएम