drishti haldwani

नई दिल्ली-सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, अयोध्या में ही बनेगा मंदिर

120

News Delhi-आज सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या पर फैसला पढ़ा जा रहा है। यह फैसला 30 मिनट तक पढ़ा जायेगा। आज 70 साल से कानूनी लड़ाई में उलझे देश के सबसे चर्चित अयोध्या भूमि विवाद मामले में फैसला सुनाया। आज प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, जस्टिस एस, बोबडेए डीवाई चंद्रचूड़, अशोक भूषण और एस अब्दुल नजीर की संविधान पीठ ने राजनैतिक, धार्मिक और सामाजिक रूप से संवेदनशील इस मुकदमें की 40 दिन तक मैराथन सुनवाई करने के बाद गत 16 अक्टूबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।

iimt haldwani

ayodhya
सर्वोच्च न्यायालय ने कहा कि इस बात के प्रमाण हैं कि अंग्रेजों के आने से पहले राम चबूतराए सीता रसोई पर हिंदुओं द्वारा पूजा की जाती थी। अभिलेखों में दर्ज साक्ष्य से पता चलता है कि हिंदुओं का विवादित भूमि के बाहरी हिस्‍से पर कब्‍जा था। फैसला रामलला के पक्ष में आया। जबकि मुस्लिम पक्ष को 5 एकड़ भूमि अन्य स्थान पर दी जायेगी।

आँखों की समस्या का रामबाण उपचार