iimt haldwani

दिल्ली जा रही बस 30 फुट गहरे नाले में समाई, 29 लोगों की मौके पर मौत, 22 घायल

218

आगरा- देर रात यमुना एक्सप्रेस-वे पर बड़ा हादसा हो गया। चालक की नींद की झपकी ने 29 लोगों की जान ले ली। आगरा के पास झरना नाले में डबल डेकर एसी बस गिर गई। हादसे में 29 यात्रियों की मौत हो गई है। मृतकों में डेढ़ साल की बच्ची भी शामिल है। वहीं 22 लोग घायल हैं। यह हादसा आगरा के थाना एत्मादपुर क्षेत्र में हुआ है।।

drishti haldwani

बताया जा रहा है कि ड्राइवर को झपकी लगने के चलते बस बेकाबू चार फुट ऊंची रेलिंग पर चढ़ गई। इसके बाद खाई में जा गिरी। हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। बताया जा रहा है कि बस में करीब 40 से 45 लोग सवार थे। बस लखनऊ से दिल्ली जा रही थी।

bus_accident Delhi,Yamuna expresve

चालक को आयी नींद की झपकी

यह हादसे तडक़े हुआ है। दर्दनाक हादसे के बाद डीएम एसएसपी और फतेहपुर सीकरी के सांसद राजकुमार चाहर मौके पर पहुंच गए। अवध डिपो की यह रोडवेज बस रविवार रात 10 बजे आलमबाग रोडवेज बस स्टैंड से सवारियों को लेकर दिल्ली के लिए निकली थी। लखनऊ एक्सप्रेसवे और इनर रिंग रोड होते हुए तडक़े 3.40 बजे करीब बस यमुना एक्सप्रेस वे पर पहुंच गई। चालक की झपकी से अनियंत्रित होकर बस यमुना एक्सप्रेस वे से 30 फुट गहराई में झरना नाले में जाकर गिर पड़ी । हादसे के समय अधिकतर सवारी है सो रही थी। इसलिए किसी को चीखने का भी मौका ना मिला। गांव के एक व्यक्ति ने हादसे के समय धमाके जैसी जोर की आवाज सुनी। उसने दौडक़र चौगान के बघेल ठार में जाकर लोगों को बताया। इसके बाद गांव वाले भारी संख्या में वहां पहुंच गए ।

bus accident Yamuna express We

नहीं हुई मृतकों की शिनाख्त

गांव के लोगों को 20 लोगों को बाहर निकाला, सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई। घायलों का अस्पताल भेजा गया। हादसे के करीब 2 घंटे बाद जेसीबी और क्रेन मौके पर पहुंची। उनसे बस को सीधा कर बस में फंसे लोगों को निकाला गया। लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। मृतकों की अभी शिनाख्त नहीं हो सकी है। सभी को पोस्टमार्टम हाउस भिजवा दिया है।गोताखोर अब भी नाले में लोगों की तलाश में जुटे हैं। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने उप मुख्‍यमंत्री दिनेश शर्मा और स्‍वतंत्र देव सिंह को घटनास्‍थल और अस्‍पताल का मुआयना करने के निर्देश दिए है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी जिलाधिकारी से इस हादसे के संबंध में बात की है। उन्‍होंने डीएम को घायलों के इलाज के लिए सभी जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए है।