iimt haldwani

दिल्ली-#MeToo# विदेशी दौरे से लौटे भाजपा सरकार के मंत्री जी, यौन उत्पीडऩ के आरोपों पर दिया ये दो टका-सा जवाब

139

दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क- सोशल मीडिया पर मीटू अभियान ने रफ्तार पकड़ ली है। यौन उत्‍पीडऩ का आरोप झेल रहे केन्द्रीय विदेश राज्‍य मंत्री एमजे अकबर रविवार को अपने विदेश दौरे से दिल्‍ली लौट आए है। एयरपोर्ट पहुंचते ही पत्रकारों ने उन पर सवालों की बौछार कर दी। उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि मैं अपना बयान बाद में दूंगा। गौरतलब है कि एमजे अकबर पर संपादक रहते हुए माहिलाओं के यौन शोषण का आरोप है। वही केन्द्र में बैठी भाजपा सरकार इस पर चुप्पी साधे हुई है। वही पार्टी सूत्रों की माने तो लगता है कि अकबर लंबे समय तक मंत्री पद पर नहीं रह पायेंगे। अब अंतिम फैसला पीएम मोदी ही करेंगे।

amarpali haldwani

Priya-Ramani-

सबसे पहले पत्रकार रमानी सामने आयी

मीटू अभियान में सबसे पहले पत्रकार प्रिया रमानी आगे आयी उन्होंने अकबर पर आरोप लगाते अपनी कहानी साझा की। इसके बाद कई पत्रकारों ने सोशल मीडिया का सहारा लेते हुए अकबर पर सार्वजनिक रूप से आरोप लगाए है। उन्‍होंने अपनी स्‍टोरी उस वक्‍त उन्‍होंने आरोपी का नाम सार्वजनिक नहीं किया था। लेकिन आठ अक्‍टूबर को उन्‍होंने अपनी स्‍टोरी के लिंक को शेयर करते हुए लिखा कि दरअसल उनकी पुरानी स्‍टोरी एमजे अकबर से संबंधित थी। वही केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने मी टू मामलों की जन सुनवाई के लिए सेवानिवृत्त न्यायाधीशों की चार सदस्यीय समिति गठित करने की घोषणा की थी।

एमजे अकबर पर लगे आरोपों के बारे में सबसे पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी समेत कई नेताओं ने बयान दिये थे। अमित शाह ने कहा कि अकबर के खिलाफ लगे आरोपों की जांच होगी। यह देखना होगा कि आरोपों में कितनी सच्चाई है। उन्होंने कहा कि यह देखना जरूरी है कि आरोप सच हैं या गलत।