inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड देहरादून- वेस्ट को बेस्ट में बदलने की आवश्यकता-सीएम, जानिये कैसे घरेलू कूड़े...

देहरादून- वेस्ट को बेस्ट में बदलने की आवश्यकता-सीएम, जानिये कैसे घरेलू कूड़े से बनाई जा सकती है जैविक खाद

देहरादून- उत्तराखंड में कैंसर मरीजों को जल्द मिलेगी ये सुविधा, सांसद अनिल बलूनी ने की बड़ी घोषणा

उत्तराखंड में टाटा समूह के माध्यम से विश्व स्तरीय कैंसर संस्थान खोला जाएगा। टाटा समूह के प्रमुख रतन टाटा ने राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी...

देहरादून- उत्तराखंड में आज इस जिले में मिले सबसे अधिक मामले, इतनों ने गवाईं अपनी जान

उत्तराखंड में आज 424 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़कर 73951 हो गया है। जबकि 13...

उत्तराखंड- कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए इस जिले में फिर लगेगा लॉकडाउन, रहेंगे ये नियम

उत्तराखंड में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए देहरादून प्रशासन ने रविवार को बाजार बंद रखने का आदेश दिया है। सिर्फ जरूरी...

देहरादून- उत्तराखंड के इस गायक के जन्मदिन पर मनाया जाता है ‘जागर संरक्षण दिवस’, इसलिए मिला पद्मश्री पुरूस्कार

प्रीतम भरतवाण उत्तराखण्ड के विख्यात लोक गायक हैं। भारत सरकार ने उन्हें 2019 में पद्मश्री पुरूस्कार से समानित किया। वे उत्तराखण्ड में बजने वाले...

रुद्रपुर: इस तरह लूटते थे टुकटुक, पुलिस ने धरदबोचा

रुद्रपुर। बीते दिवस हुई दो टुकटुक लूटकांडों का कोतवाली पुलिस ने 48 घंटे के भीतर पर्दाफाश करते हुए एक रेस्टोरेन्ट के कारीगर सहित दो...

देहरादून- आज मुख्यमंत्री आवास में घरेलू कूड़े से जैविक खाद बनाने की विधि का प्रस्तुतीकरण दिया गया। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि घर के कूड़े कचरे को कम्पोस्ट में बदलकर अच्छी खाद तैयार करने की यह आसान विधि है। हर व्यक्ति अपने घरों में इस विधि को अपना सकता है। इस विधि से वेस्ट को बेस्ट में बदलकर हम स्वच्छता अभियान में भी बड़ा योगदान दे सकते हैं।

CM Trivendra Singh Rawat
यह विधि कचरे से होने वाले वायु व जल प्रदूषण को रोकने में भी कारगर साबित होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी सरकारी कॉलोनियों में जैविक व अजैविक कूड़े का पृथकीकरण करते हुए जैविक कूड़े की विकेन्द्रित कम्पोस्टिंग सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये गये हैं। सिंचाई विभाग व वेस्ट वॉरियर टीम ने घरेलू कूड़े से जैविक खाद बनाने की विधि के बारे में जानकारी दी गई।

CM Trivendra Singh Rawat
इस विधि में गीले व सूखे कूड़े को अलग करना होगा। खाद बनाने के लिए पहले सूखे कूड़े को एकत्र कर उसके ऊपर कॉकपिट की लेयर बनाई जाती है। इसके उपरान्त उसके ऊपर गीला कूड़ा डाला जाता है तथा कॉकपिट की लेयर बनाई जाती है। यह खाद दो से तीन माह में तैयार हो जाती है। इस अवसर पर सचिव डॉ. भूपेन्द्र कौर औलख, शैलेष बगोली, अधिशासी अभियंता सिंचाई आरडी पन्त व संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

Related News

देहरादून- उत्तराखंड में कैंसर मरीजों को जल्द मिलेगी ये सुविधा, सांसद अनिल बलूनी ने की बड़ी घोषणा

उत्तराखंड में टाटा समूह के माध्यम से विश्व स्तरीय कैंसर संस्थान खोला जाएगा। टाटा समूह के प्रमुख रतन टाटा ने राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी...

देहरादून- उत्तराखंड में आज इस जिले में मिले सबसे अधिक मामले, इतनों ने गवाईं अपनी जान

उत्तराखंड में आज 424 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़कर 73951 हो गया है। जबकि 13...

उत्तराखंड- कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए इस जिले में फिर लगेगा लॉकडाउन, रहेंगे ये नियम

उत्तराखंड में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए देहरादून प्रशासन ने रविवार को बाजार बंद रखने का आदेश दिया है। सिर्फ जरूरी...

देहरादून- उत्तराखंड के इस गायक के जन्मदिन पर मनाया जाता है ‘जागर संरक्षण दिवस’, इसलिए मिला पद्मश्री पुरूस्कार

प्रीतम भरतवाण उत्तराखण्ड के विख्यात लोक गायक हैं। भारत सरकार ने उन्हें 2019 में पद्मश्री पुरूस्कार से समानित किया। वे उत्तराखण्ड में बजने वाले...

रुद्रपुर: इस तरह लूटते थे टुकटुक, पुलिस ने धरदबोचा

रुद्रपुर। बीते दिवस हुई दो टुकटुक लूटकांडों का कोतवाली पुलिस ने 48 घंटे के भीतर पर्दाफाश करते हुए एक रेस्टोरेन्ट के कारीगर सहित दो...

रुद्रपुर: अंतत: पुलिस ने छोड़ा किसानों का रास्ता, हजारों किसान दिल्ली रवाना

रुद्रपुर। दो दिन तक हाइवे पर डेरा डालने के बाद तराई के किसानों को दिल्ली जाने की अनुमति मिली तो अपराह्न दो बजे हजारों...