PMS Group Venture haldwani

देहरादून- उत्तराखंड के महिम सौरभ गांगुली के साथ करेंगे नई पारी की शुरुआत, BCCI से मिला ये बड़ा तोहफा

240

Uttarakhand Cricket, 40 वर्षों से उत्तराखंड में क्रिकेट के भविष्य को लेकर जुटे पीसी वर्मा की कड़ी मेहनत को गृह मंत्री अमित शाह व राजीव शुक्ला ने भी सराहा है। यही वजह रही कि पीसी वर्मा के बेटे महिम वर्मा को बीसीआई से तोहफे के रुप एक बड़ी जिम्मेदारी संभालने का मौका मिल रहा है। दरअसल क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (सीएयू) में सचिव पद की जिम्मेदारी संभालने के बाद अब महिम बीसीसीआई में उपाध्यक्ष पद की बड़ी जिम्मेदारी संभालेंगे। जिसके साथ ही इस तरह की पद संभालने वाले वह प्रदेश के पहले व्यक्ति बन गये है।

Shree Guru Ratn Kendra haldwani

सौरभ गांगुली के साथ करेंगे नई पारी की शुरूआत

सौरभ गांगुली के बीसीसीआई के अध्यक्ष बनने के बाद अब वे उनके साथ नई पारी की शुरुआत करेंगे। बीते ढाई साल में उत्तराखंड क्रिकेट के हक में लगातार तीन बड़े फैसले हुए हैं। इनसे सीधे-सीधे प्रदेश की क्रिकेट प्रतिभाओं को प्रोत्साहन मिलेगा। कुछ ही महीने पहले वर्षों से मान्यता पर लटका फैसला भी सुलझा और सीएयू को क्रिकेट संचालन की जिम्मेदारी मिली। अब बीसीसीआई में उपाध्यक्ष के रूप में बड़ी जिम्मेदारी मिलने से साफ है कि प्रदेश के हक में फैसले हो सकेंगे।

Maheem Verma bcci news

बता दें कि महिम वर्मा के पिता पीसी वर्मा सीडीए एयरफोर्स में कार्यरत रहे। वे सेवा के दौरान भी क्रिकेट से जुड़े रहे। पिछले 40 वर्षों से उन्होंने क्रिकेट को प्रोत्साहन देने के लिए काम करना शुरू किया। उनकी ओर से गोल्ड कप के रूप में सबसे बड़ा एवं सफल क्रिकेट टूर्नामेंट का पिछले 37 वर्षों से आयोजन होता आया है।

उन्होंने क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड को मान्यता दिलाने व क्रिकेट के भविष्य के लिए भी संघर्ष किया। वहीं, महिम वर्मा उत्तराखंड तकनीकी विश्वविद्यालय में कार्यरत रहे हैं। नौकरी के साथ उनकी क्रिकेट गतिविधियों उनकी पृष्ठभूमि शिक्षा के क्षेत्र से रही है। पीसी वर्मा की विरासत के उत्तराधिकारी के रूप में उन्हें सीएयू में सचिव पद की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी गई।