देहरादून- उत्तराखंड सीएम की पत्नी और बच्चे बोले हम ऐसे करेंगे कोरोना पीड़ितों की मदद, देखिये क्या-क्या किया

Slider

लॉकडाउन के बाद कोरोना वायरस से लडऩे के लिए सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है। ऐसे में सीएम ने अपील की थी कि जो भी इच्छुक को मुख्यमंत्री राहत कोष में धनराशि से अपना फर्ज निभा सकता है। आज खुद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कोरोना वायरस के दृष्टिगत अपने 5 माह का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का निर्णय लिया है। इसके अलावा मुख्यमंत्री की पत्नी सुनीता रावत ने1 लाख रुपये का चेक, मुख्यमंत्री की बेटी कृति रावत ने 50000 एवं श्रृजा ने 2000 रुपये का चेक मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए दिये हैं।

CM trivendra singh rawat cabinet meeting decision
वहीं द इंडियन एकेडमी सीनियर सेकेंडरी स्कूल की ओर से कोविड-19 के दृष्टिगत मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए दो लाख का चेक दिया है। यह चेक स्कूल के डायरेक्टर मुनेंद्र खंडूङी ने दिया। डीजी स्वास्थ्य डॉ. अमिता उप्रेती ने 50000 रुपये का चेक एवं उनके पति डॉ. ललित मोहन उप्रेती ने भी 50000 रुपए का चेक कोविड-19 के दृष्टिगत मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए दिए। मुख्यमंत्री के ओएसडी जेसी खुल्बे ने 5000 रुपये का चेक, वरिष्ठ प्रमुख निजी सचिव केके मदान ने 11000 रुपए का चेक एवं वरिष्ठ निजी सचिव हेमचंद्र भट्ट ने 5100 रुपए का चेक मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए हैं।

Slider

 

उत्तराखंड की बड़ी खबरें