iimt haldwani

देहरादून- प्रदेश में तीन चरणों में होंगे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव, इन तिथियों में होगा मतदान!

637

Panchayat Election 2019- हरिद्वार को छोड़ राज्य के 12 जिलों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव तीन चरणों में छह, 11 व 16 अक्टूबर को हो सकते हैं। राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से सरकार को भेजे गए पंचायत चुनाव के प्रस्तावित कार्यक्रम को दो-तीन दिन में मुख्यमंत्री की झंडी मिलने की संभावना है। इसके बाद आयोग 15 अथवा 16 सितंबर को पंचायत चुनाव के कार्यक्रम का ऐलान कर देगा। इसके साथ ही प्रदेश में पंचायत चुनाव की आदर्श आचार संहिता लग जाएगी।

drishti haldwani

हाईकोर्ट ने हरिद्वार को छोड़ शेष जिलों में 30 नवंबर तक त्रिस्तरीय पंचायतों (ग्राम, क्षेत्र व जिला) के चुनाव संपन्न कराने के आदेश दिए हैं। इस कड़ी में सरकार और आयोग की ओर से तैयारियों को लगभग अंतिम रूप दिया जा चुका है। 12 जिलों में त्रिस्तरीय पंचायतों के लिए 66246 पदों के निर्वाचन के लिए हाल में राज्य निर्वाचन आयोग ने चुनाव का प्रस्तावित कार्यक्रम सरकार को भेजा था।

Panchayat election 2019

जल्द होगा निर्वाचन कार्यक्रम का ऐलान

शासन ने इससे संबंधित पत्रावली छह सितंबर को मुख्यमंत्री कार्यालय को भेज दी। सूत्रों के अनुसार आयोग की ओर से सुझाए गए चुनाव कार्यक्रम के अनुसार पंचायत चुनाव की प्रक्रिया 20 सितंबर को नामांकन दाखिल करने के साथ होगी। 29 सितंबर को प्रत्याशियों को चुनाव चिह्न आवंटित किए जाएंगे। चुनाव के लिए मतदान तीन चरणों छह अक्टूबर, 11 अक्टूबर व 16 अक्टूबर को प्रस्तावित किया गया है। सूत्रों के मुताबिक आयोग द्वारा प्रस्तावित चुनाव कार्यक्रम को लेकर गहनता से मंथन चल रहा है। इसे लेकर करीब-करीब सहमति भी बन चुकी है। दो-तीन दिन में इसे झंडी मिलने की संभावना है। इसके बाद आयोग को यदि लगेगा तो वह एकाध तिथि में परिवर्तन कर निर्वाचन कार्यक्रम का ऐलान कर देगा।

आपदा प्रभावित क्षेत्रों में ऐसे होंगे चुनाव

उत्तरकाशी, चमोली समेत अन्य जिलों के आपदा प्रभावित क्षेत्रों में मतदान केंद्र क्षतिग्रस्त होने की दशा में उसे नजदीकी सरकारी भवन में शिफ्ट किया जाएगा। ऐसा भी न हो पाने की दशा में वहां पोलिंग बूथ के लिए टेंट (तंबू) लगाया जाएगा। राज्य निर्वाचन आयुक्त चंद्रशेखर भट्ट ने हरिद्वार को छोड़ अन्य जिलों के डीएम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियों की समीक्षा के दौरान यह बात कही। उन्होंने संबंधित जिलों के जिलाधिकारियों से मतदान केंद्र परिवर्तन के संबंध में प्रस्ताव शीघ्र आयोग को भेजने के निर्देश दिए। हरिद्वार को छोड़ बाकी जिलों में 30 नवंबर से पूर्व त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव संपन्न कराने के हाईकोर्ट के आदेश के क्रम में राज्य निर्वाचन आयोग भी तेजी से कार्यां में जुटा है।