drishti haldwani

देहरादून-रिश्तों को बेचकर खा गये साले साहब, सगे साले ने ऐसे लगाया जीजा को 22 लाख का चूना

442

देहरादून-दौलत की चाह में इंसान रिश्ते-नाते भी नहीं देखता। ऐसा ही एक मामला प्रदेश की राजधानी दून में देखने को मिला। यहां एक साले ने अपने जीजा को 22 लाख का चूना लगा दिया। मामला तब खुला जब जीजा जमीन की रजिस्ट्री कराने गया। वहां कागजों के देख जीजा के होश उड़ गये। पता चला कि वह जमीन पहले ही दो करोड़ में बंधक है। जिसके बाद जीजा ने विक्रेता और गवाहों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। मुकदमें के बाद पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गई।

iimt haldwani

मामला चमन विहार निवासी अंकित जैन से जुड़ा है। रेसकोर्स निवासी मिक्की सिंह उर्फ परमवीर सिंह उनका सगा साला है। अंकित को किसी ने बताया कि उनका साला रेसकोर्स स्थित एक प्रॉपर्टी बेच रहा है। इस प्रॉपर्टी में दो दुकानें भी बनी हुई हैं। उन्होंने अपने साले मिक्की से मिलकर प्रॉपर्टी खरीदने की इच्छा जताई। मिक्की ने प्रॉपर्टी के कागजात उन्हें दिखाए। कहा कि संपत्ति साफ-सुथरी है। इसके बाद मिक्की ने अपने दोस्त कुलविंदर सिंह और जसजीत सिंह के समक्ष संपत्ति की कीमत पहले तीन करोड़ बताई।

froud

22 लाख देने के बाद फिर पैसों की मांग

इसके दोनों पार्टियों में बात हुई और दो करोड़ 48 लाख में सौदा तय कर लिया। जिसके बाद उन्होंने मिक्की से रजिस्ट्री कराने को कहा लेकिन उसने ज्यादा खर्च आने की बात कही। बाद में तीन किश्त में मिक्की ने अंकित जैन से 22 लाख रुपये ले लिए। मिक्की सिंह ने गवाहों के रूप में कुलविंदर सिंह व जसमीत सिंह को पेश किया। आरोप है कि 22 लाख रुपये लेने के बाद मिक्की सिंह फिर पैसों की मांग करने लगे।

पीडि़त की जमीन पर लिया लोन

इस पर पीडि़त ने कहा पहले रजिस्ट्री कराओ फिर पूरा दंूगा। इससे वह नाराज हो गया। कुछ समय बाद जब पीडि़त अपने दोस्त को लेकर मिक्की सिंह और कुलविंदर सिंह के पास गया। तो वहा दोनों ने गाली-गलौज कर उसे धमका दिया। इस बीच उसे पता चला कि उसकी जमीन पर दो करोड़ का लोन लिया गया है। जिसके बाद उसने आरोपित मिक्की सिंह, कुलविंदर सिंह एवं जसमीत सिंह के खिलाफ ठगी, अमानत में ख्यानत और मारपीट का मुकदमा दर्ज कर लिया है।