inspace haldwani
Home सक्सेस स्टोरी देहरादून- पढ़ियें पद्मश्री लवराज सिंह धर्मशक्तु की शिखर तक पहुंचने की कहानी,...

देहरादून- पढ़ियें पद्मश्री लवराज सिंह धर्मशक्तु की शिखर तक पहुंचने की कहानी, ऐसे कमाया दुनिया भर में नाम

नई दिल्ली- उत्तराखंड के रामगढ़ से जाने क्या है रबींद्रनाथ टैगोर का नाता, पढ़े उनके बारे में दिलचस्प तत्व

कविगुरु जिन्होंने मोहन चंद करम चंद गांधी को महात्मा नाम दिया, का उत्तराखंड में आगमन 1903, 1914 एवं 1937 में हुआ। गुरूदेव द्वारा इन...

हल्द्वानी-डा. एनसी पाण्डेय ने दी होम्योपैथी दिवस की बधाई , पढिय़े होम्योपैथी चिकित्सा के जन्मदाता डा. हैनिमेन के संघर्ष की पूरी कहानी

होम्योपैथी दिवस डा. हैनिमेन के जन्मदिन पर साहस होम्योपैथिक क्लीनिक के डा. एनसी पाण्डेय ने शुभकामनाएं दी है। डा. क्रिश्चियन फ्राइडरिक सैम्यूल हैनिमेन (जन्म...

पढ़े 21 साल के IAS अफसर के संघर्ष की कहानी, कभी वेटर बन निकालता था जेब खर्च और आज…

Success Story, कहते हैं कि अगर एक बार इरादा पक्का कर लिया जाए तो फिर लक्ष्य कितना भी मुश्किल क्यू न हो हासिल हो...

International Women’s Day: डेजी ने ममता की दी वह मिशाल, जिसे देश कर रहा सलाम

बरेली: महिलाएं समाज की जटिलताओं से लड़कर आधी आबादी में अपनी एक पहचान बना रही हैं। अंतराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) के मौके...

World Women’s Day: जानिए कौन हैं वो 07 महिलाएं जिन्‍हें प्रधानमंत्री मोदी ने सौंपा अपना सोशल मीडिया एकाउंट

World Women’s Day: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने महिला दिवस के मौके पर देश की महिलाओं को बड़ी सौगात दी है। प्रधानमंत्री ने कहा है,...

Love Raj Singh Dharmshaktu, उत्तराखंड के बहुत ही पिछड़े और अविकसित गॉव बोना, जिला पिथौरागढ़ में जन्मे पद्मश्री लवराज सिंह धर्मशक्तु ने साहसिक खेलों और हिमालयी पर्यावरण से प्रेम के चलते पर्वतारोहण, ट्रेकिंग, पैराग्लाईडिंग, राफटिंग इत्यागि क्षेत्रों में अपनी एक विषिष्य पहचान बनाई है। नेहरु पर्वतारोहण संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरान्त धर्मशक्तु ने माउण्ड एवरेस्ट पर 7 बार सफलता पूर्वक चढ़ाई की।

यह भी पढ़ें-देहरादून- उत्तराखंड के इस किसान पर बनी फिल्म की विदेशों में भी है चर्चा, मेहनत और लगन से ऐसे कमाया दुनियाभर में नाम

एवरेस्ट से हटाया 700 किलो कचरा

बता दें कि लवराज सिंह धर्मशक्तु ने 10 बार एवरेस्ट के पर्वतारोहण अभियानों में भाग लिया। विभिन्न दिशाओं से माउण्ड एवरेस्ट पर चढ़ने का भी उनका अपना एक कीर्तिमान है। इतना ही नहीं अपने पर्वतों से प्रेम के कारण ही उन्होंने हिमायल को स्वच्छ रखने की मुहिम में योगदान करते हुए अपनी संख्या बीएसएफ की मदद से एवरेस्ट के उच्च स्थलीय कैम्पों में छोड़ा गया 700 किलो कचरा हटाने का भी महत्वपूर्ण कार्य किया।

Love Raj Singh Dharmshaktu

इतना ही नहीं भारत की कंचनजंगा, त्रिशूल इत्यादि अन्य कई चोटियों पर भी पर्वतारोहण अभियान करने का कीर्तिमान उनके नाम है। जिसको मिलाकर हिमालय में उन्होंने 50 पर्वतारोहण अभियानों में भाग लिया है। इन अभियानों में गम्मभीर दुर्घटनाओं एवं चोटों के बावजूद भी उन्होंने न केवल अपनी इन साहसिक वृत्ति को बनाये ही रखा है बल्कि प्रशिक्षण के माध्यम से अनेक प्रशिक्षुओं को भी निरन्तर प्रेरित किया है।

बीएसएफ में रह चुके है असिस्टेंट कमाण्डेंट

वर्ष 2013 में उत्तराखंड के केदारनाथ क्षेत्र में आयी भीषण आपदा में बीएसएफ टीम के साथ उन्होंने सक्रिय रुप से सहायता एवं पुनर्वास अभियान भी चलाया। बीएसएफ में असिस्टेंट कमाण्डेंट रह चुके लवराज सिंह धर्मशक्तु को उनकी इन विशिष्टताओं के कारण कई प्रतिष्ठित पुरस्कार भी प्राप्त हुए हैं। इनमें पर्वतारोहण के क्षेत्र का सर्वोच्च सम्मान- ‘तेन सिंह नोर्गे राष्ट्रीय साहस पुरस्कार’ 2003 एवं सर एडमण्ड हिलेरी के द्वारा दिया गया पुरस्कार भी सम्मिलित हैं।

Love Raj Singh Dharmshaktu

भारत सरकार ने पर्वतारोहण के क्षेत्र में उनकी इस विशिष्टता को सम्मानित करते हुए वर्ष 2014 में पद्मश्री से अलंकृत किया। ऐसे हिमालय प्रेमी, पर्यावरण प्रेमी और सहासिक खेलों के पुरोधा लवराज सिंह धर्मशक्तु को डी.लिट् की मानद उपाधि से भी विश्वविद्यालय द्वारा नवाजा गया।

Related News

नई दिल्ली- उत्तराखंड के रामगढ़ से जाने क्या है रबींद्रनाथ टैगोर का नाता, पढ़े उनके बारे में दिलचस्प तत्व

कविगुरु जिन्होंने मोहन चंद करम चंद गांधी को महात्मा नाम दिया, का उत्तराखंड में आगमन 1903, 1914 एवं 1937 में हुआ। गुरूदेव द्वारा इन...

हल्द्वानी-डा. एनसी पाण्डेय ने दी होम्योपैथी दिवस की बधाई , पढिय़े होम्योपैथी चिकित्सा के जन्मदाता डा. हैनिमेन के संघर्ष की पूरी कहानी

होम्योपैथी दिवस डा. हैनिमेन के जन्मदिन पर साहस होम्योपैथिक क्लीनिक के डा. एनसी पाण्डेय ने शुभकामनाएं दी है। डा. क्रिश्चियन फ्राइडरिक सैम्यूल हैनिमेन (जन्म...

पढ़े 21 साल के IAS अफसर के संघर्ष की कहानी, कभी वेटर बन निकालता था जेब खर्च और आज…

Success Story, कहते हैं कि अगर एक बार इरादा पक्का कर लिया जाए तो फिर लक्ष्य कितना भी मुश्किल क्यू न हो हासिल हो...

International Women’s Day: डेजी ने ममता की दी वह मिशाल, जिसे देश कर रहा सलाम

बरेली: महिलाएं समाज की जटिलताओं से लड़कर आधी आबादी में अपनी एक पहचान बना रही हैं। अंतराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) के मौके...

World Women’s Day: जानिए कौन हैं वो 07 महिलाएं जिन्‍हें प्रधानमंत्री मोदी ने सौंपा अपना सोशल मीडिया एकाउंट

World Women’s Day: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने महिला दिवस के मौके पर देश की महिलाओं को बड़ी सौगात दी है। प्रधानमंत्री ने कहा है,...

साइकिल का काम करने वाला बना अरबों का मालिक, जानिए सचदेव की संघर्ष की कहानी

कुमार सचदेव का जन्म एक मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ थाए 15 वर्ष की उम्र में ही उन्होने एक सफल उद्योगपति का नाम हासिल...