inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड देहरादून- पढ़े भारतीय लेखक रस्किन बॉन्ड का पूरा जीवन परिचय, इस खास...

देहरादून- पढ़े भारतीय लेखक रस्किन बॉन्ड का पूरा जीवन परिचय, इस खास काम के लिए मिला पद्मश्री और पद्मभूषण अवार्ड

रुद्रपुर: जिला पंचायत का लदान ढुलान ठेकेदार इस तरह हुआ ब्लेक लिस्टेड, डीएम बरेली भी करेंगे यह जांच

रुद्रपुर। जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी ने लदान ढुलान के ठेकेदार शशांक चांडक को शासन द्वारा गठित जांच समिति की रिपोर्ट आने तक...

देहरादून- उत्तराखंड में आज कोरोना से हुई इतनी मौते, इस जिले में मिले सबसे अधिक पॉजिटिव केस

उत्तराखंड में आज 530 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में आंकड़ा बढ़कर 73527 हो गया है। जबकि 5 लोगों की...

देहरादून- सीएम त्रिवेन्द्र ने यहां किया पराई सत्र का शुभारंभ, की डोईवाला प्लांट के आधुनिकीकरण की घोषणा

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को शुगर कम्पनी लिमिटेड डोईवाला के पराई सत्र 2020-21 का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पिछले...

देहरादून- जाने क्या है उत्तराखंड के इस पद्मश्री सम्मान विजेता की कहानी, क्यो सरकार ने दिया खास सम्मान

आदित्य नारायण पुरोहित एक भारतीय वैज्ञानिक और प्रोफेसर हैं, जिन्होंने मुख्य रूप से पेड़ की प्रजातियों और उच्च ऊंचाई वाले औषधीय पौधों के शरीर...

रुद्रपुर: हाइवे पर किसानों ने जमाया डेरा, बेहड़ ने समर्थन देकर कही यह बात

रुद्रपुर । किसान विरोधी अध्यादेशों के खिलाफ प्रदर्शन करने दिल्ली जा रहे तराई के किसानों को रुद्र बिलास चीनी मिल के पास पुलिस द्वारा...

रस्किन बॉन्ड ब्रिटिश मूल के एक विजेता भारतीय लेखक हैं। जिनकी लिखी किताबों पर अधारित कई फिल्में भी भारतीय सिनेमा में बन चुकी है। 19 मई 1934 को हिमाचंल प्रदेश के कसौली में जन्में रस्किन बॉन्ड की पढ़ाई हिमांचल के एक स्कूल से हुई, वही अपनी आगे की पढ़ाई उन्होंने लंडन से पूरी की। 17 साल की उम्र में रस्किन बॉन्ड ने अपना पहला उपननियास “रुम ऑफ का रूफ” लिखा था।

Ruskin Bond Indian author

जिसके लिए उन्हें “जॉन लियोइन राईस” अवार्ड दिया गया। वही लंदन में मन नहीं लगने के कारण वे दोबारा भारत आकर बस गए। रस्किन बॉन्ड ने अभी तक 500 से भी अधिक लघु कथाएँ, निबंध और उपन्यास लिखे हैं। उनका लोकप्रिय उपन्यास ‘द ब्लू अम्ब्रेला’ हैं जिस नाम की एक हिंदी फिल्म भी बनाई गयी थी। जिसे 2007 में सर्वश्रेष्ठ बाल फिल्म के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

रस्किन बॉन्ड बच्चों के लिए 50 से अधिक पुस्तकों और आत्मकथा के दो खंड के लेखक भी हैं। रस्किन भारत में बच्चों के साहित्य को बढ़ावा देने में उनकी भूमिका के लिए बहुत प्रसिद्ध हैं। भारत में एक लोकप्रिय लेखक के रूप में प्रसिद्ध हुए रस्किन बॉन्ड को 1999 में पद्मश्री और 2014 में पद्म भूषण अवार्ड से सम्मानित किया गया।

बता दें कि बॉलीवुड निर्देशक विशाल भारद्वाज ने 2007 में बच्चों के लिए अपने उपन्यास, द ब्लू अम्ब्रेला पर आधारित एक फिल्म बनाई। इस फिल्म ने सर्वश्रेष्ठ बाल फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार जीता। हिंदी फिल्म “7 खून माफ”, रस्किन बॉन्ड की लघु कहानी सुसन्ना के सात पतियों पर आधारित है।

Related News

रुद्रपुर: जिला पंचायत का लदान ढुलान ठेकेदार इस तरह हुआ ब्लेक लिस्टेड, डीएम बरेली भी करेंगे यह जांच

रुद्रपुर। जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी ने लदान ढुलान के ठेकेदार शशांक चांडक को शासन द्वारा गठित जांच समिति की रिपोर्ट आने तक...

देहरादून- उत्तराखंड में आज कोरोना से हुई इतनी मौते, इस जिले में मिले सबसे अधिक पॉजिटिव केस

उत्तराखंड में आज 530 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में आंकड़ा बढ़कर 73527 हो गया है। जबकि 5 लोगों की...

देहरादून- सीएम त्रिवेन्द्र ने यहां किया पराई सत्र का शुभारंभ, की डोईवाला प्लांट के आधुनिकीकरण की घोषणा

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को शुगर कम्पनी लिमिटेड डोईवाला के पराई सत्र 2020-21 का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पिछले...

देहरादून- जाने क्या है उत्तराखंड के इस पद्मश्री सम्मान विजेता की कहानी, क्यो सरकार ने दिया खास सम्मान

आदित्य नारायण पुरोहित एक भारतीय वैज्ञानिक और प्रोफेसर हैं, जिन्होंने मुख्य रूप से पेड़ की प्रजातियों और उच्च ऊंचाई वाले औषधीय पौधों के शरीर...

रुद्रपुर: हाइवे पर किसानों ने जमाया डेरा, बेहड़ ने समर्थन देकर कही यह बात

रुद्रपुर । किसान विरोधी अध्यादेशों के खिलाफ प्रदर्शन करने दिल्ली जा रहे तराई के किसानों को रुद्र बिलास चीनी मिल के पास पुलिस द्वारा...

उत्तराखंड- मुख्यसचिव ओमप्रकाश ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को दिये ये कड़े निर्देश, आम जनता को ऐसे होगा फायदा

आम नागरिक को उत्तराखंड के सरकारी विभागों में काम कराने और लेन-देन के लिए एड़ियां नहीं घिसनी पड़ेंगी। मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने वीडियो कांफ्रेंसिंग...