drishti haldwani

देहरादून- फिल्मी दुनिया को रास आई देवभूमि, लगातार झटका दूसरा बेस्ट फ़िल्म फ़्रेंडली स्टेट अवॉर्ड

142

(Best film friendly award 2019)उत्तराखंड के फ़िल्म प्रेमियों के लिए अच्छी ख़बर है। दरअसल उत्तराखंड को बेस्ट फ़िल्म फ़्रेंडली स्टेट का अवॉर्ड दिए जाने का ऐलान किया गया। ऐसा इसलिए क्योंकि दिल्ली में शास्त्री भवन में 66वें राष्ट्रीय फ़िल्म (national film award 2019) पुरस्कारों के ऐलान में सबसे पहला नाम उत्तराखंड का आया है। यानि कि फ़िल्मों की शूटिंग के लिहाज से उत्तराखंड सबसे अच्छा राज्य है। ख़ास बात यह है कि राज्य ने लगातार दूसरे साल यह पुरस्कार जीता है। पिछले कुछ सालों में उत्तराखंड में कई बड़ी फ़िल्मों की शूटिंग हुई है जिनमें रजनीकांत जैसे मेगा स्टार की फ़िल्म भी शामिल है। मीटर गुल बत्ती चालू की ज़्यादातर शूटिंग टिहरी में ही हुई है।

iimt haldwani

फ़ीचर फ़िल्म कैटेगरी में दिए जाते है 31 अवार्ड

फ़ीचर फ़िल्म कैटेगरी में 31 अवार्ड दिए जाते हैं। इस साल इनके लिए 419 फ़िल्मों की एंट्री आई थी। 7 सदस्यीय ज्यूरी ने 45 दिन में इनकी स्क्रीनिंग कर फ़ैसला किया। बेस्ट फ़िल्म फ़्रेंडली स्टेट कैटेगरी के लिए 18 राज्यों ने आवेदन किया था। ज्यूरी को इनमें उत्तराखंड का आवेदन सबसे मज़बूत लगा। बता दें कि पिछले कुछ सालों में उत्तराखंड फ़िल्म इंडस्ट्री के फ़ेवरेट डेस्टिनेशन के रूप में उभरा है।

बत्ती गुल-मीटर चालू, केदारनाथ जैसी चर्चित फ़िल्मों की ज़्यादातर शूटिंग राज्य में हुई है तो दक्षिण भारतीय फ़िल्मकारों की नज़रों में भी उत्तराखंड की ख़ूबसूरती छा गई है। मेगा स्टार रजनीकांत ने की एक फ़िल्म की शूटिंग राज्य में हुई है तो बाहुबली के निर्देशक एसएस राजामौली भी उत्तराखंड शूटिंग के लिए आए हैं।

इनके अलावा अजय देवगन प्रोडक्शन द्वारा निर्मित हिन्दी फिल्म ‘शिवाय’, तिग्मांशु धूलिया निर्देशित राग देश, तेलगु फिल्म ‘ब्रहमोत्सवम’, हिन्दी फिल्म ‘शुभ मंगल सावधान’, ‘स्टूडेंट ऑफ द इयर-2’, जॉन इब्राहिम की ‘परमाणु’, ‘रायफलमैन जसबंत सिंह रावत’ के साथ ही मराठी फिल्म ‘फुर्र’ उत्तराखंड में शूट हुई फ़िल्मों में उल्लेखनीय हैं।