देहरादून- यहां नौकरी का झासा देकर युवतियों को कार में किया जा रहा था सप्लाई, पुलिस ने ऐसे किया भंडाफोड़

0
210

देहरादून- न्यूज टुडे नेटवर्क: राजधानी में नौकरी का झासा देकर युवतियों को देह व्यापार में धकेले जाने का मामला प्रकाश में आया है। मामले में पुलिस ने कार्यवाई करते हुए आरोपियों को दबोज लिया है। वही देह व्यापार में धकेलने लेजाई जा रही युवितयों को भी पुलिस छुड़ा लिया है। इधर आरोपियों के कब्जे से मिली युवतियों ने पुलिस को बताया कि आरोपी उन्हें नौकरी का झांसा देकर दिल्ली से कार में बैठाकर मूसरी ले जा रहे थे। आरोपियों के खिलाफ अनैतिक देह व्यापार के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपियों के कब्जे से मुक्त कराई गई युवतियों में तीन मूलरूप से नेपाल, दो दिल्ली और एक देहरादून की है।

ऐसे देते थे नौकरी का झासा

जानकारी मुताबिक पुलिस ने देह व्यापार के मामले का खुलासा करते हुए रैकेट सरगना समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों के कब्जे से छह पीड़ित युवतियों को मुक्त कराया गया। गिरफ्तार आरोपियों में एक नेपाल का निवासी है। जबकि शेष तीनों अलग-अलग राज्यों के रहने वाले हैं। आरोपियों के पास मिली दो कारें भी पुलिस ने सीज कर दी हैं। राजपुर थाना पुलिस के अनुसार, एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल को सूचना मिली कि देह व्यापार के लिए कुछ लड़कियों को मसूरी ने जाया जा रहा है। इसपर पुलिस ने मसूरी रोड पर चेकिंग शुरू कर दी। इस दौरान दो संदिग्ध कारों को रोककर उसकी चेकिंग की। दोनों कारों में सवार छह युवतियों समेत दस लोगों से पुलिस ने पूछताछ की। जाखन चौकी प्रभारी उमेश शर्मा के मुताबिक कार सवार पुरुषों की पहचान राहुल सिंह चौहान (23) पुत्र बीएस चौहान निवासी डी सर्कुलर रोड, सोनिया विहार (नई दिल्ली), आलोक सिंह (22) पुत्र राजवीर सिंह निवासी मदनापुर शहजहां (यूपी), मोनू गुसाईं (26) पुत्र नंद कुमाली निवासी बह्मपुरी पटेलनगर (देहरादून) और रोबिन (35) पुत्र धन बहादूर निवासी नेपाल के रूप में हुई। कार से पुलिस को आपत्तिजनक सामग्री के साथ ही 12,600 रुपये नगदी बरामद हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here