inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड देहरादून- तो क्या अब जमात में जाने के लिए लेनी होगी पुलिस...

देहरादून- तो क्या अब जमात में जाने के लिए लेनी होगी पुलिस की इजाजत?, केन्द्र सुना सकती है ये फरमान

देहरादून- सरकार ने जारी की कोविड-19 रोकथाम के लिए नई गाइडलाईन, जाने होंगे क्या बदलाव

उत्तराखंड में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामलो को देखते हुए प्रदेश सरकार ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए नई गाइडलाइन जारी कर...

देहरादून- थानों में बनायें जा रहे ईको पार्क का सीएम त्रिवेन्द्र ने किया निरीक्षण, वन विभाग के अधिकारियों को दिए ये निर्देश

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रविवार को थानों में बनाये जा रहे ईको पार्क का निरीक्षण किया। बता दें कि 2.5 हेक्टेयर क्षेत्र में...

देहरादून- कोरोना की चपेट में आये इतने लोगों ने गवाईं जान, उत्तराखंड में कोविड-19 के ये है ताजा आकड़े

उत्तराखंड में आज 389 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़कर 74340 हो गया है। जबकि 08...

उत्तराखंड- कुमाऊं विश्वविद्यालय को देश में हासिल हुआ ये स्थान, एशिया में है इतनी रैंकिंग

एशिया के विश्वविद्यालयों की 2021 की रैंकिंग जारी की गई है। जिसमें कुमाऊं विश्वविद्यालय को 600 में से 551 और देश के विश्वविद्यालयों में...

रुद्रपुर: इस तरह लाखों-लाख हड़प गए अफसर और दलाल

काशीपुर। छात्रवृत्ति घोटाले में हरियाणा के कॉलेज व काशीपुर निवासी युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। एसआईटी की तहरीर पर दर्ज रिपोर्ट...

कोरोना संक्रमण को लेकर भविष्य में बरती जाने वाली एहतियात के मद्देनजर उत्तराखंड में अब जमात में जाने के लिए पुलिस की इजाजत जरूरी हो सकती है। ऐसे में पुलिस अधिकारियों का भी मानना है कि ऐसी व्यवस्था होनी चाहिए, अधिकारियों की माने तो अगर केंद्र सरकार की ओर से ऐसी गाइडलाइन आती है तो उस पर अमल किया जाएगा।

दरअसल, निजामुद्दीन मरकज से सैकड़ों जमातियों के निकल कर गैर प्रान्तों में जाने की खबर से देश भर में हड़कंप मच गया था। राज्य के खुफिया तंत्र का मजबूत नेटवर्क था कि राज्य में आने वाले सभी 1436 जमातियों को चंद दिनों में ही ट्रेस कर लिया गया।

jamati news uttarakhand

उसी समय इस बात की जरूरत महसूस की जाने लगी थी कि अगर जमात में जाने के लिए या इस तरह की गतिविधियों के लिए पहले से अनुमति का प्रावधान होता तो इतनी मशक्कत न करनी पड़ती। जानकारी मुताबिक अब ऐसी व्यवस्था बनाने पर विचार शुरू हो गया है कि जमात में जाने के लिए पुलिस या प्रशासन से अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया जाए।

इनपर भी रहेगी नज़र

आमतौर टूरिस्ट वीजा पर दूसरे देशों से आकर लोग व्यवसायिक या धार्मिक गतिविधि में शिरकत करते हैं। विगत वर्षों में चीन के ऐसे करीब आधा दर्जन नागरिक पकड़े जा चुके हैं, जो टूरिस्ट वीजा पर आकर कंपनियों में काम कर रहे थे। निजामुद्दीन में भी कई ऐसे जमाती थे, जो टूरिस्ट वीजा पर आकर जमात में शामिल हुए थे।

Ashok Kumar DG law and order uttarakhand

पुलिस महानिदेशक अपराध और कानून व्यवस्था अशोक कुमार द्वारा की गई जानकारी अनुसार जमात ही नही हर तरह की धार्मिक और सामाजिक गतिविधि पर खुफिया तंत्र की नजर रहती है। कुछ मामलों में पुलिस की अनुमति आवश्यक होती है। इस सम्बंध में अगर सरकार कोई निर्णय लेती है तो उसके अनुसार कदम उठाए जाएंगे।

Related News

देहरादून- सरकार ने जारी की कोविड-19 रोकथाम के लिए नई गाइडलाईन, जाने होंगे क्या बदलाव

उत्तराखंड में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामलो को देखते हुए प्रदेश सरकार ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए नई गाइडलाइन जारी कर...

देहरादून- थानों में बनायें जा रहे ईको पार्क का सीएम त्रिवेन्द्र ने किया निरीक्षण, वन विभाग के अधिकारियों को दिए ये निर्देश

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रविवार को थानों में बनाये जा रहे ईको पार्क का निरीक्षण किया। बता दें कि 2.5 हेक्टेयर क्षेत्र में...

देहरादून- कोरोना की चपेट में आये इतने लोगों ने गवाईं जान, उत्तराखंड में कोविड-19 के ये है ताजा आकड़े

उत्तराखंड में आज 389 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़कर 74340 हो गया है। जबकि 08...

उत्तराखंड- कुमाऊं विश्वविद्यालय को देश में हासिल हुआ ये स्थान, एशिया में है इतनी रैंकिंग

एशिया के विश्वविद्यालयों की 2021 की रैंकिंग जारी की गई है। जिसमें कुमाऊं विश्वविद्यालय को 600 में से 551 और देश के विश्वविद्यालयों में...

रुद्रपुर: इस तरह लाखों-लाख हड़प गए अफसर और दलाल

काशीपुर। छात्रवृत्ति घोटाले में हरियाणा के कॉलेज व काशीपुर निवासी युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। एसआईटी की तहरीर पर दर्ज रिपोर्ट...

उत्तराखंड- सुरेश भट्ट की एंट्री से सीएम की कुर्सी पर फिर अटैक की फिजूल कोशिश, समझिए उत्तराखंड की राजनीति

बीजेपी नेताओं के बीच में कुछ लोग फिर से सुरेश भट्ट की एंट्री से मुख्यमंत्री और दूसरों नेताओ के बीच खटास घोलना चाहते है।...