inspace haldwani
Home उत्तराखंड देहरादून-सीएम ने की महाकुंभ की समीक्षा, स्थाई मेलाधिकारी व मेला पुलिस अधिकारी...

देहरादून-सीएम ने की महाकुंभ की समीक्षा, स्थाई मेलाधिकारी व मेला पुलिस अधिकारी की नियुक्ति जल्द-सीएम,

देहरादून- मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सचिवालय में नगर विकास मंत्री मदन कौशिक के साथ 2021 में हरिद्वार में होने वाले महाकुंभ की तैयारियों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुंभ के कार्यों में तेजी लाने के लिए जल्द ही स्थाई मेला अधिकारी व मेला पुलिस अधिकारी की नियुक्ति की जायेगी। कुंभ में होने वाले स्थाई कार्यों की जल्द स्वीकृति दी जायेगी। उन्होंने कहा कि अक्ूटबर 2020 तक स्थाई प्रकृति के सभी कार्य पूर्ण कर लिये जाय। कार्यों की गुणवत्ता व पारदर्शिता का पूरा ध्यान रखा जाय। महाकुंभ को सुविधाजनक बनाने व भीड़ प्रबंधन में सहयोग के लिए आधुनिक तकनीक के इस्तेमाल पर विशेष ध्यान दिया जाय। बुजुर्ग श्रद्धालुओं के लिए सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा जाय। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि हरिद्वार महाकुम्भ के लिए लोगो (प्रतीक चिन्ह) व स्लोगन के लिए जनता के सुझाव आमंत्रित किये जाय। इसके लिए पुरस्कार राशि का प्राविधान किया जाय।

Tarivendra Singh Rawat

निगरानी को बनाई जायेगी कमेटी-सीएम

उन्होंने कहा कि सकुशल कुंभ कराने व कार्यों की निरंतर निगरानी के लिए एक उच्च स्तरीय कमेटी बनायी जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुंभ के दौरान हरिद्वार में भीड़ प्रबंधन कैसे हो इसके समाधान के लिए जिलाधिकारी, पुलिस के अधिकारी व रेलवे के अधिकारी आपसी समन्वय कर सुनियोजित कार्ययोजना बनाये। मुख्यमंत्री ने कहा कि बैरागी कैम्प व अन्य पार्किंग स्थलों पर अतिक्रमण न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाय। अति महत्वपूर्ण प्रकृति के कार्यों को शीर्ष प्राथमिकता दी जाय। मेला क्षेत्र में स्नान घाटों का विस्तार करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि अखाड़ों की सुविधा का पूरा ध्यान रखा जाय।

कुंभ मेले में 20 हजार पुलिस कर्मी तैनात

शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि स्नान पर्वों पर करोड़ों श्रद्धालु गंगा स्नान के लिए आते हैं, इसलिए मेला क्षेत्र में स्नान घाटों का विस्तार करना अति आवश्यक है। जटवाड़ पुल से हरकी पैड़ी तक घाटों का विस्तार करना जरूरी है। मेले के दौरान हिल बाईपास को खोले रखने के लिए प्रयासों की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मेडिकल कैंप के लिए पहले से ही स्थान चयन कर लिये जाय। पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी ने बताया कि कुंभ मेले में 20 हजार से अधिक सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की जायेगी। आग एवं भगदड़ की घटनाओं को रोकने के लिये विशेष कार्ययोजना बनाई जायेगी। कुंभ मेले में करोड़ों की संख्या में श्रद्धालु आते है ऐसे में भीड़ प्रबन्धन और सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टि से हर सम्भव प्रयास किये जायेंगे।

Related News

रुद्रपुर- किसान सम्मान योजना में बढ़ा प्रदेश का नाम,देखिये महिला डीएम की कृषक ट्रिक

रुद्रपुर। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की दूसरी वर्षगांठ पर सम्मान समारोह दिल्ली में आयोजित हुआ।...

नानकमत्ता गुरुद्वारे पहुंचे सीएम त्रिवेंद्र रावत, विधायकों संग टेका मत्था

राजीव कुमार सक्सेना। नानकमत्ता। गुरुद्वारा श्री नानकमत्ता साहिब पहुंचे प्रदेश के मुखिया त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दरबार साहिब में माथा टेक प्रसाद ग्रहण किया। उनको...

ऋषिकेश में एक साथ मिली लखीमपुर से गायब हुई 4 लड़कियां

उत्तराखंड पुलिस ने उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी से रहस्यमई ढंग से लापता हुईं चार छात्राओ को ऋषिकेश के मुनीकीरेती क्षेत्र से बरामद कर...

यहां ATM में कैश डालने गए दो लोग लाखों रुपये लेकर हुए फरार, पुलिस तलाश में जुटी

काशीपुर में एटीएम में डालने के लिए दी गई लाखो की रकम को कैस एटीएम में डालने वाले कंपनी के दो कस्टोडियन एजेंट ने...

नैनीताल -गर्जिया मंदिर में आयी दरारों की जांच और कार्ययोजना को लेकर जिलाधिकारी ने उठाया यह कदम

रामनगर से 14 किमी की दूरी पर स्थापित ऐतिहासिक मां गर्जिया देवी मन्दिर जो कि पहाडी पर स्थापित है उसमे आयी दरार के बेहतर...

हरिद्वार कुंभ मेले की तैयारियों से हाईकोर्ट नाखुश , मांगे इन सवालों के जवाब

नैनीताल हाईकोर्ट में सोमवार को कुंभ मेले की तैयारियों को लेकर दायर जनहित याचिकाओं पर सुनवाई हुई। इस दौरान कोर्ट ने तीन मार्च तक...