देहरादून- मौसम विभाग के इन 2 एप से अपने खेतों और घरों को रखें सुरक्षित, जाने कैसे करते है काम

उत्तराखंड में मानसून हमेशा से कहर बनकर बरसा है। तेज वर्षा और आकाशी बिजली हर वर्ष प्रदेश के कई इलाकों में भारी शती पहुंचाती आई है, हालाकिं प्रदेश सरकार द्वारा लोगों को नुक्सान से उभारने के लिए अनेको प्रयास भी किये जाते है। लेकिन अब उत्तराखंड में आकाशीय बिजली गिरने की संभावना पहले ही मोबाईल पर अपको पता चल सकेगी। इस खास “दामिनी एप” का लिंक उत्तराखंड मौसम विज्ञान केंद्र ने अपनी वेबसाइट पर भी जारी कर दिया है। इस एप को आप प्लेस्टोर से भी डाउनलोड कर सकते है।

damini app weather forecastin

Slider

कैसे करता है एप काम

आइआइटीएम पुणे की ओर से तैयार किया गया दामिनी एप आकाशीय बिजली गिरने की सूचना देता है। गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध दामिनी एप आपकी जीपीएस लोकेशन के आधार पर मोबाइल लोकेशन से 40 किलोमीटर की परिधि में आकाशीय बिजली गिरने की चेतावनी देता है। इसके अलावा एप पर बचाव और उपाय के तरीके भी बताए गए हैं। उत्तराखंड मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि अधिकारिक वेबसाइट पर एप का लिंक डाल दिया गया है। जिसे डाउनलोड कर आकाशीय बिजली गिरने की संभावना वाले क्षेत्रों में जाने से बचा जा सकता है।

meghdoot app for farmers weather forecasting

किसानों के लिए लाभकारी मेघदूत एप

मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से किसानों को बारिश के नुक्सान से बचाने के लिए “मेघदूत एप” भी जारी किया गया है। यह एप मौसम के पूर्वानुमान के अनुसार खेतीबाड़ी के लिए महत्वपूर्ण जानकारी मुहैया कराने में लाभकारी है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें