देहरादून-इस बात से तंग आकर दी थी सीएम के मोबाइल पर बम फेंकने की धमकी, ऐसे लगा पुलिस के हाथ

Slider

Dehdradun Crime News- विगत दिवस एक युवक ने प्रदेश के मुखिया त्रिवेंद्र सिंह रावत के निजी मोबाइल फोन पर हरकी पैड़ी को बम से उड़ा देने की धमकी दी। सूचना के बाद पुलिस विभाग में हडक़ंप मच गया। मामला उच्चस्तरीय होने के चलते अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गये। कॉल सीएम के प्रोटोकॉल अधिकारी आनंद सिंह रावत ने रिसीव की। इसकी जानकारी प्रोटोकॉल अधिकारी ने इस संबंध में तुरंत देहरादून के एसएसपी अरुण मोहन जोशी को दी। इसके बाद देहरादून पुलिस की ओर से हरिद्वार के एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस से संपर्क साधा गया। देर शाम ही आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया।


पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए आज हरिद्वार से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके पास से उक्त नंबर वाला मोबाइल बरामद कर लिया गया है। आरोपी केशवानंद पुत्र विद्यादत्त निवासी ग्राम आंताखोली तहसील चाकीसैंड़ पट्टी कंडारस्यू जिला पौड़ी का रहने वाला है। वर्तमान में देहरादून के प्रेमनगर क्षेत्र में रहता है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने ही मुख्यमंत्री के मोबाइल पर धमाके की धमकी दी थी। आरोपी के बैग से कोई भी संदिग्ध समान नहीं मिला है। आरोपी की पत्नी और तीन बच्चे हैं लेकिन पिछले दो सालों से परिवार का उससे कोई संपर्क नहीं है। गांव में भी प्रधान सहित कुछ अन्य लोगों के साथ विवाद चल रहा है।

Slider

CM trivendra singh rawat cabinet meeting decision
जानकारी में यह बात सामने आयी कि वर्ष 2016 में आधार कार्ड न बनने के चलते वह मुख्यमंत्री द्वारा आयोजित दरबार में पौड़ी गया था। इस मामले में उचित कार्रवाई न होने पर उसने वर्ष 2016 में श्रीनगर थाना में फोन कर सीएम को नुकसान पहुंचाने की बात कही थी। जिसके बाद पुलिस ने उसे पकड़ लिया था। उस समय पुलिस उसे लुधियाना से गिरफ्तार कर लाई थी। करीब एक साल सजा काटने के बाद आरोपी इलाहाबाद चला गया। फिलहाल एक सप्ताह पहले ही हरिद्वार आया है। उसका आधार कार्ड न होने से उसे कही काम नहीं मिल रहा था। जिस कारण उसे मजदूरी करनी पड़ी थी। इससे वह परेशान हो गया। गुस्से में उसने हरकी पैड़ी को उड़ाने की धमकी दी।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें