PMS Group Venture haldwani

देहरादून- देवभूमी के 11 साल के बच्चे ने बनाई हवा से चलने वाली बाईक, अपना आइडिया पीएम मोदी को किया समर्पित

194

Uttarakhand 11 year kid Airbike Invention, उत्तराखंड में जहा एक ओर सरकार राज्य को आगे बढ़ाने तथा जनता को लाभ पहुंचाने के लिए हर मुमकिन प्रयास कर रही है। वही प्रदेश के होनार भी देवभूमि का नाम देश और दुनियां में रौशन करने के लिए नये-नये आविष्कार कर रहे है। कुछ ऐसा ही कमाल उत्तराखंड की राजधानी में रहने वाले 11 वर्षीय अद्वैत क्षेत्री ने कर दिखाया है। अद्वैत ने इतनी कम उम्र में ऐसी बाइक का अविष्कार किया है, जो हवा से चलती है।

Shree Guru Ratn Kendra haldwani

Uttarakhand 11 year kid AirBike Invention/

सेंट कबीर अकादमी में कक्षा छह में पढ़ रहे अद्वैत ने इस बाइक की जानकारी मीडिया से साझा की। उन्होंने अपनी बाइक का नाम अद्वैत-ओटू रखा है। हर्रावाला निवासी अद्वैत के पिता आदेश क्षेत्री ने बताया कि वह अपना यूट्यूब चैनल भी चलाते हैं। अद्वैत ने बताया कि उनकी यह बाइक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान को समर्पित है।

13 माह लगाये आइडिया को साकार बनाने में

अद्वैत की माने तो एक दिन वह गुब्बारे में हवा भर रहे थे। अचानक गुब्बारा हाथ से छूट गया और काफी ऊपर तक चला गया। यह देखकर अद्वैत के दिमाग में विचार आया कि जब हवा के दबाव से गुब्बारा उड़ सकता है तो बाइक क्यों नहीं चल सकती। इसके बाद वह अपने आइडिया को साकार करने में जुट गए। उनके अनुसार यह बाइक बनाने में उन्हें 13 माहिने का वक्त लगा। इस कार्य में पिता का शौक भी उनके काफी काम आया।

अद्वैत के पिता आदेश का वैसे तो कंसट्रक्शन का बिजनेस है। लेकिन, उन्हें किशोरावस्था से ही बाइक मॉडीफाई करने का काफी शौक है। अद्वैत का आइडिया सुनकर वह भी उसके साथ जुट गए। तकनीकी कार्यों के साथ उन्होंने बाइक के लिए जरूरी पार्ट एकत्र करने में अपने पुत्र की काफी मदद की। अद्वैत ने बाइक में आगे की ओर दो टैंक लगाए हैं, जिनमें कंप्रेशर से हवा भरी जाती है। टैंकों के बीच छोटा-सा इंजन लगा है। टैंक में भरी हवा के दबाव से इंजन स्टार्ट होता है।