drishti haldwani

देहरादून- देवभूमि पहुंचा शहीद संदीप थापा का पार्थिव शरीर, अपने लाल को तिरंगे में लिपटा देख बेसुध हुए परिजन

385

देहरादून-शनिवार को लांसनायक संदीप थापा के शहीद होने की खबर से सेलाकुई के राजावाला इलाके में कोहराम मच गया। मोहल्ले का हर शख्स बदहवास हालात में संदीप के घर की ओर भागा जा रहा था। संदीप के घर में चारों ओर चीख पुकार मची थी। पूर्व हवलदार पिता भगवान सिंह परिजनों को संभालने के लिए खुद आंसू पी गए। जम्मू कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में शहीद हुए देहरादून के लाल संदीप थापा का पार्थिव शरीर सेना के हेलीकॉप्टर द्वारा दोपहर डेढ़ बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर पहुंचा। खराब मौसम के कारण सेना के हेलीकॉप्टर को यहां पहुंचने में देरी हुई।

iimt haldwani

saneep Thapa Dehradun

सेना के जवान, परिजन और अधिकारी एयरपोर्ट पर उनके पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि दी गई। श्रद्धांजलि देने के बाद अब उनके पार्थिव शरीर को उनके घर सहसपुर भेजा जाएगा। दोपहर बाद सैन्य सम्मान के साथ उन्हें प्रेमनगर स्थित घाट पर अंतिम विदाई दी जाएगी। संदीप थापा 3/5 गोरखा राइफल में लांसनायक के पद पर तैनात थे। वर्तमान में उनकी तैनाती राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में थी। संदीप मूलरूप से ग्राम पौंडवाला राजावाला सेलाकुई के रहने वाले थे। शनिवार को संदीप के शहीद होने की खबर मिलते ही घर में कोहराम मच गया। परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है।