inspace haldwani
Home उत्तराखंड देहरादून- चमोली आपदा पर सीएम त्रिवेन्द्र का बयान, दी मौजूदा हालातों की...

देहरादून- चमोली आपदा पर सीएम त्रिवेन्द्र का बयान, दी मौजूदा हालातों की पूरी जानकारी

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चमोली जिले के तपोवन क्षेत्र में आई आपदा को लेकर पूरा दौरा करने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया के जरिए खबर मिलते ही वह आपदा क्षेत्र के लिए रवाना हुए। सीएम त्रिवेन्द्र ने बताया कि ऋषि गंगा प्रोजेक्ट में 35 लोग काम कर रहे थे। जिसमें दो पुलिस कर्मचारी जो ड्यूटी पर थे वह भी लापता हैं। इसके अलावा ऋषि गंगा प्रोजेक्ट से 5 किलोमीटर डाउन लाइन में एनटीपीसी का एक प्रोजेक्ट चल रहा था।

जिसमें लगभग 176 मजदूर काम कर रहे थे। इसके अलावा दूर टनल में 1 में 15 लोग और दूसरे में 35 लोग मौजूद थे। इस घटना की जानकारी उनको स्थानीय लोगों ने दी जिसके का रेस्क्यू कर 35 से 40 लोगों को ऊपर निकला गया। फिलहाल बचाव और राहत कार्य तेजी के साथ चल रहा है। एनडीआरएफ एसडीआरएफ आइटीबीपी और सेना सभी मौके पर रेस्क्यू कार्य कर रहे हैं।

11 गांवो की सुरक्षा के लिए पहुंचे हेलीकॉप्टर

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बताया कि घटनास्थल के पास 17 गांव में से 11 गांव के लोग उस क्षेत्र में मौजूद हैं। बाकी इस समय पलायन कर जा चुके है। 11 गांव के लोगों की आवश्यकता के लिए बरेली से सेना के हेलीकॉप्टर वहां पहुंच गए हैं। राज्य सरकार के हेलीकॉप्टर भी मौजूद हैं। गोचर से आईटीबीपी के 90 जवानों को भी मदद के लिए रखा गया है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बताया कि पूरे मामले में पीएम नरेन्द्र मोदी ने फोन कर जानकारी ली है। पीएम मोदी ने कहा कि किसी भी तरह की मदद के लिए पूरा देश उत्तराखंड के साथ है।

इन्होंने किया सीएम से संपर्क

सीएम त्रिवेन्द्र ने जानकारी दी कि गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद जी का भी फोन आया घटना की जानकारी के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण सहित मुकेश अंबानी के बेटे आनंद अंबानी सहित कई शुभचिंतकों के फोन आए हर किसी ने देवभूमि की मदद के लिए पूरा आश्वासन दिया है इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बताया कि मृतकों के परिजनों को राज्य सरकार ₹400000 की आर्थिक सहायता करेगी साथ ही चार पांच लोगों के स्थानीय लोगों के कैजुअल्टी की भी सूचना मिली है और 180 भेड़ बकरी भी इस आपदा में बह गए हैं।

Related News

देहरादून- उत्तराखंड में मेडिकल के छात्रों के लिए खुशखबरी, सरकार ने इस बड़े फैसले को दी मंजूरी

केंद्र पोषित योजना के तहत उत्तराखंड में तीन नए मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस कोर्स शुरू करने के लिए सरकार से मंजूरी मिल गई है।...

पंतनगर- इस दिन से शुरू होगा प्रसिद्ध अखिल भारतीय किसान मेला, कोविड के चलते किये गए ये बदलाव

पंतनगर विश्वविद्यालय का 109वां अखिल भारतीय किसान मेला 22 से 25 मार्च तक आयोजित होगा। कोविड-19 के चलते इस बार किसान मेला में कई...

गैरसेंण- नेता प्रतिपक्ष ने विधानसभा सदन में इन मुद्दों को उठाया, ऐसे किये सरकार पर वार

ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के विधानसभा सदन में कांग्रेस ने नियम 310 के अंतर्गत पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और महंगाई का मुद्दा उठाया। इस दौरान...

गैरसेंण- कैबिनेट बैठक में लिए गए कई महत्वपूर्ण फैसले, जाने किन प्रस्तावों पर लगी मुहर

उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सरकार ने गैरसैंण में विधानसभा सत्र करने के साथ-साथ आज कैबिनेट बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं। त्रिवेंद्र कैबिनेट ने...

पथराव का मन बनाकर आए थे कुछ उपद्रवी, मुख्यमंत्री ने दिए लाठीचार्ज की घटना के मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

गैरसैंण। जायज मांग को लेकर चल रहा आन्दोलन जरा सी चूक पर कैसे कमजोर पड़ सकता है, इसकी बानगी नन्दप्रयाग-घाट मोटर मार्ग के चौड़ीकरण...

यहां इतनी खालो के साथ वन्यजीव तस्कर चढ़ा एसटीएफ के हत्थे ,ऐसे करता था तेंदुओं का शिकार

पिथौरागढ़ - उत्‍तराखंड एसटीएफ ने वन्‍यजीवों की तस्‍करी को रोकने में बड़ी सफलता प्राप्त की है.पिथौरागढ़ में लम्बे समय से वन्यजीव तस्कर के सक्रिय...