inspace haldwani
Home उत्तराखंड गढ़वाल देहरादून- सीएम से मिला कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल, चमोली आपदा पर हरदा ने ऐसे...

देहरादून- सीएम से मिला कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल, चमोली आपदा पर हरदा ने ऐसे की सीएम त्रिवेद्र की तारीफ

देहरादून- चमोली आपदा के बाद आज कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात की। पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत के नेतृत्व में मुलाकात की गई। इस दौरान जलवायु परिवर्तन से हिमालयी क्षेत्रों में आ रहे बदलाव पर चर्चा की गई। पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि मौसम में बदलाव के कारण उच्च हिमालयी क्षेत्र में पर्यावरण संतुलन का सवाल फिर उठ खड़ा हुआ है। हरीश रावत ने हाल ही में आपदा प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया था और रैणी सहित अन्य प्रभावित गांवों के लोगों से बातचीत की थी।

देहरादून- वन कर्मियों के आश्रितों को मिलेगा 15 लाख का मुआवजा, सीएम ने की घोषणा

पत्रकारों से बात करते हुए आज हरीश रावत ने कहा कि उत्तराखंड पर्यटन स्थल है। सरकार को इस आपदा से जल्द से जल्द निपटना चाहिए जिससे बाहरी लोगों में अच्छा संदेश जा सकें। इससे पहले आपदा के तुंरत बाद सीएम त्रिवेन्द्र रावत ने अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिये थे। जिसकी हरीश रावत ने प्रशंसा भी की थी। उन्होंने आज भी कहा कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र खुद इस आपदा की मॉनटरिंग कर रहे है। ऐसे में उन्होंने एक बार फिर सीएम त्रिवेन्द्र के कार्यों की प्रशंसा की। इससे पहले भी कई बार पूर्व सीएम हरदा मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की तारीफ कर चुके है।

हल्द्वानी- आग से निपटने के लिए STH में किये गए ये सारे इंतजाम, मॉक ड्रिल का हुआ आयोजन

बता दें कि चमोली आपदा की सूचना मिलते ही सीएम त्रिवेन्द्र रावत ने अपने सभी कार्यक्रम रद्द करते हुए सीधे आपदाग्रस्त क्षेत्र का दौरा किया था। साथ ही सभी विभागों को अलर्ट किया। तुंरत राहत व बचाव कार्य हादसे वाली जगह पर भेजा गया। खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ ने उनसे घटना की जानकारी ली और हर संभव मदद का आश्वासन दिया। पहली बार केन्द्र की और से सीधा किसी राज्य के लिए एक्शन लिया गया। यह बात विगत दिवस गढ़वाल कमीश्नर रविनाथ रमन पत्रकारों से वार्ता में कहा कि राज्य और केन्द्र सरकार ने जिस तरह से एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, सेना और पुलिस का हौंसला बढ़ाया है ऐसा उन्होंने भी पहली बार देखा है। केन्द्र और राज्य सरकार सीधे इस आपदा की मॉनटरिंग कर रहे है।

Related News

गैरसैंण-4 मार्च फिर बना उत्तराखंड के लिए खास, तीसरी कमीश्नरी बनी गैरसैंण ये चार जिले शामिल

गैरसैंण-आज त्रिवेन्द्र सरकार ने बजट में शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्तर्गत आय-व्यय में कुल 153 करोड़ सात लाख रुपये का प्रावधान किया गया...

गैरसैंण-सीएम त्रिवेन्द्र ने खोला 57 हजार 400 करोड़ का पिटारा, पढिय़े क्या इस बजट में खास

गैरसैंण- आज मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में वित्तीय वर्ष 2021-2 का 57400.32 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। त्रिवेंद्र सरकार...

देहरादून-चमोली आपदा में मृतक कर्मचारियों के परिजनों को पीएफ राशि मिलनी शुरू, अभी तक इतने लोगों को हुआ भुगतान

देहरादून- ऋषिगंगा क्षेत्र से निकली जलप्रलय में तपोवन विष्णुगाड बिजली परियोजना के जिन कर्मचारियों की मौत हो गई। अब उनके आश्रितों को कर्मचारी भविष्य...

हरिद्वार-मेलाधिकारी ने किया भूमि पूजन, पंचायती बड़ा उदासीन अखाड़ा लगायेगा ये खास शिविर

हरिद्वार-आज मेलाधिकारी दीपक रावत ने भूपतवाला स्थित दूधाधारी मैदान में पंचायती बड़ा उदासीन अखाड़ा की ओर से आयोजित भूमि पूजन में पहुंचे। यहां उन्होंने...

देहरादून-आज ही के दिन सीएम त्रिवेद्र ने लिया था ये बड़ा फैसला, पढिय़े क्यों खास है उत्तराखंड के लिए ये दिन

देहरादून- उत्तराखंड के इतिहास में चार मार्च को एक सुनहरी तिथि की तरह सदैव याद रखा जाएगा। आज ही के दिन गैरसैण में बजट...

गैरसैंण-सदन पटल पर रखी गई आर्थिक सर्वेक्षण की रिपोर्ट, पढिय़े वर्ष 2019-20 की विकास दर

गैरसैंण-आज त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार अपना पांचवां बजट गैरसैंण विधानभवन में पेश करेगी। वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बजट का आकार करीब 56 हजार...