drishti haldwani

देहरादून-कैबिनेट मंत्री के करीबी से सीपीयू ने की हाथापाई, राजधानी में गर्माया मामला

612

देहरादून-एक बार फिर प्रदेश में सीपीयू चर्चाओं में हैं। एक कार सवार को फोन पर बात करने पर चालान को लेकर झड़प हो गई। बताया जा रहा है कि सिटी पेट्रोल यूनिट के दारोगा व सिपाही ने मंडी परिषद के पूर्व अध्यक्ष और कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के करीबी रविंद्र आनंद से न सिर्फ बदसलूकी। बताया जा रहा है कि हाथापाई भी हुई। विवाद में उनके हाथ में चोट आई है। इस दौरान सीपीयू के रवैये से नाराज आनंद रेसकोर्स में ही धरने पर बैठ गए। सीओ ट्रैफिक को घटना की जानकारी दी, सीओ ट्रैफिक को मामले की जांच सौंपी गई है। कार सवार रविंद्र आनंद की माने तो उनके एक परिचित की गाड़ी का चालान हो गया था। जिसे छुड़ााने के लिए वह नेहरू कॉलोनी थाने जा रहे थे। जैसे ही रेसकोर्स चौक के पास पहुंचे तो उनके मोबाइल पर फोन आया। कार रोककर वह फोन पर बात करने लगे।

iimt haldwani

जांच में जुटी पुलिस

इस दौरान दो सीपीयू कर्मी उनके पास पहुंचे और कहा कि फोन पर बात क्यों कर रहे हैं, गाड़ी का चालान होगा। आनंद ने कहा कि वह गाड़ी खड़ी कर बात कर रहे हैं। इसमें कोई नियम का उल्लंघन तो नहीं है। इस पर सीपीयू कर्मी उनकी गाड़ी की चाबी निकालने लगे। इस पर उनकी सीपीयू कर्मियों से झड़प हो गई। इसे बाद कई पुलिस वाले वहां पहुंच गये और गाड़ी ले जाने की कोशिश करने लगे तो आनंद गाड़ी के आगे धरने पर बैठ गये। जिसे देखने वालों का तांता लग गया। बड़ा अधिकारियों के संज्ञान में आया तो उन्होंने दोनों से अलग-अलग पूछताछ की। आनंद नेे सीपीयू दारोगा शैलेंद्र नेगी पर अभद्रता का आरोप लगाते हुए प्रार्थना पत्र दिया है।