Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तराखंड देहरादून- उत्तराखंड में आप पार्टी का विरोध करेगी टीम अन्ना, सामने रखे...

देहरादून- उत्तराखंड में आप पार्टी का विरोध करेगी टीम अन्ना, सामने रखे CM केजरीवाल के ये काले चिट्ठे

निकाह के बाद पता चला कि वह पांचवीं दुल्हन है, पढिए फिर क्या हुआ

रुद्रपुर में एक व्यक्तिे ने पांचवी बार एक युवती से निकाह कर लिया। निकाह के बाद युवती पर देह व्यापार का दबाव बनाया गया...

वाह री सियासत: जिस अफसर ने बनाई छवि, उसके तबादले पर ही बांट दी मिठाई

फणीन्द्र नाथ गुप्ता रुद्रपुर। एक ऐसा अफसर जिसने न सिर्फ अपने दायित्वों का निर्वहन पूरी ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ किया, बल्कि अपने अधीनस्थों के...

देहरादून- उत्तराखंड में कोरोना से मौत का आंकड़ा पहुचा 478, देखिये आज की अपने ज़िले की रिपोर्ट

उत्तराखंड में कोरोना की रफ्तार लगातार बढ़ी हुई है शनिवार को 2078 मामले दर्ज किए गए हैं इनमें सबसे अधिक 668 देहरादून...

बिना मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना करने वालों पर देखिए कैसे सख्त हुआ प्रशासन

संवाददाता - अनुराग शुक्ला पुलिस व नगर पालिका एक साथ मिलकर नगर में मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए अभियान चलाया जहां...

हरिद्वार- चंडी देवी पुल से कूदें युवक-युवती, सामने आई ये बड़ी वजह

हरिद्वार में चंडी पुल से एक युवक और युवती ने पानी में छलांग लगा दी। मामला शनिवार की सुबह का है, जब नगर के...
Uttarakhand Government

उत्तराखंड में अन्ना हजारे टीम आगामी विधानसभा चुनाव में सक्रिय रूप से अपनी भूमिका निभाएगी। टीम अन्ना का उद्देश्य राजनीति नही बल्कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल द्वारा उत्तराखंड में चुनाव लड़ने के फैसले के सामने आना है। अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाते हुए टीम अन्ना के राष्ट्रीय कोर कमेटी के सदस्य एवं किसान मंच उत्तराखंड के प्रदेश अध्यक्ष भोपाल सिंह चौधरी ने कहा कि अन्ना हजारे के साथ हुए धोखे का बदला उत्तराखंड में लिया जाएगा।


Uttarakhand Government

चंदे के पैसा चुराकर बनाई APP पार्टी- चौधरी

उनकी माने तो 2011 में दिल्ली में जनलोकपाल आंदोलन के दौरान सबसे अधिक विश्वास अन्ना हजारे ने अरविंद केजरीवाल पर किया था। उस वक्त सारे चंदे के पैसो का लेन-देन भी केजरीवाल के हाथों में था। उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर जनलोकपाल आंदोलन का कत्ल करने का भी आरोप लगाया है। उनकी माने तो एक तरफ अन्ना भूख हड़ताल पर जन लोकपाल की मांग को लेकर बैठे थे।

Uttarakhand Government

वहीं उनकी आस्तीन का सांप बनकर केजरीवाल अंदर ही अंदर अपने लिए राजनीतिक जमीन विशात बिछा रहे थे। जिसकी किसी को भी कानों कान खबर नहीं थी। राजनीति में कदम न रखने वाले केजरीवाल ने एक दिन अचानक अन्ना टीम के सामने एक राजनीतिक पार्टी बनाने का प्रस्ताव रखा और कहा कि राजनीति एक कचरा है। और उस कचरे को साफ करने के लिए एक राजनीतिक पार्टी बनाना जरूरी है।

Uttarakhand Government

Anna Hazare Party uttarakhand

उनकी माने तो उस वक्त केजरीवाल द्वारा कुछ साथियों के साथ बैठक कर पूरी रणनीति तैयार की जा चुकी थी। उस वक्त टीम अन्ना के अधिकांश सदस्यों ने केजरीवाल के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था, साथ ही जनलोकपाल की मांग पूरी होने के बाद राजनीति के बारे में सोचने की बात कही थी। भोपाल सिंह की माने तो उस वक्त जनलोकपाल की मांग को लेकर पूरे देश में आंदोलन था जिससे आम जनता की भावना जुड़ी थी।

उन्होंने आरोप लगाया कि उस वक्त अरविंद केजरीवाल ने टीम अन्ना के चंदे के पैसो से अपनी राजनीति पार्टी बनाने की मंशा पूरी की, और अन्ना हजारे को धोखा दिया। उन्होंने कहा कि सीएम केजरीवाल ने झूट की बुनियाद पर चढ़कर सीएम तक का सफर तय किया है। हालाकि 2022 में 70 सीटों पर चुनाव लड़ने का सपना देख रही आप पार्टी का उन्होंने उत्तराखंड में करारा विरोध करने की बात कही है।

आप पार्टी का होगा भंडाफोड़

अन्ना के राष्ट्रीय कोर कमेटी के सदस्य एवं किसान मंच उत्तराखंड के प्रदेश अध्यक्ष भोपाल सिंह चौधरी ने कहा कि उत्तराखंड में पहली बार 2013 में अन्ना द्वारा जनतंत्र मोर्चा बनाया गया था। उस वक्त 13 जिलो में जनतंत्र यात्रा के तहत भ्रष्टाचार एवं राज्य की दशा और दिशा सुधारने के लिए कई नगरों में रैलियां एवं जनसभाएं भी की गई थी। सभाओं में अन्ना को भष्ट्राचार विरोधी मुहिम में उत्तराखंड के हजारों लोगों का योगदान एवं जन समर्थन भी रहा था। उन्होंने कहा की अब टीम अन्ना आप पार्टी का भंडाफोड़ करेगी।

Anna Hazare Party uttarakhand

उन्होंने ये भी आरोप लगाया है कि देवभूमी में केजरीवाल एक बार फिर दिल्ली की तरह अन्ना के नाम पर अपनी राजनीतिक पार्टी की दुकान चलाना चाहते है। जिसका टीम अन्ना पुरजोर विरोध करेगी। उन्होंने कहा कि हालहीं में आम आदमी पार्टी के ट्विटर अकाउंट से नंदा देवी पर्वत और गाजीपुर के कूड़े के ढेर की तुलना की गई है। जिससे उत्तराखंड का हर व्यक्ति क्षुब्ध है, इसलिए झूठ और छल की बुनियाद पर राजनीति करने वाली पार्टियों को यहां नहीं घुसने दिया जाएगा।

Uttarakhand Government

Related News

निकाह के बाद पता चला कि वह पांचवीं दुल्हन है, पढिए फिर क्या हुआ

रुद्रपुर में एक व्यक्तिे ने पांचवी बार एक युवती से निकाह कर लिया। निकाह के बाद युवती पर देह व्यापार का दबाव बनाया गया...

वाह री सियासत: जिस अफसर ने बनाई छवि, उसके तबादले पर ही बांट दी मिठाई

फणीन्द्र नाथ गुप्ता रुद्रपुर। एक ऐसा अफसर जिसने न सिर्फ अपने दायित्वों का निर्वहन पूरी ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ किया, बल्कि अपने अधीनस्थों के...

देहरादून- उत्तराखंड में कोरोना से मौत का आंकड़ा पहुचा 478, देखिये आज की अपने ज़िले की रिपोर्ट

उत्तराखंड में कोरोना की रफ्तार लगातार बढ़ी हुई है शनिवार को 2078 मामले दर्ज किए गए हैं इनमें सबसे अधिक 668 देहरादून...

बिना मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना करने वालों पर देखिए कैसे सख्त हुआ प्रशासन

संवाददाता - अनुराग शुक्ला पुलिस व नगर पालिका एक साथ मिलकर नगर में मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए अभियान चलाया जहां...

हरिद्वार- चंडी देवी पुल से कूदें युवक-युवती, सामने आई ये बड़ी वजह

हरिद्वार में चंडी पुल से एक युवक और युवती ने पानी में छलांग लगा दी। मामला शनिवार की सुबह का है, जब नगर के...

रुद्रपुर- पुलिस की गिरफ्त में तस्कर ने इस तरह किया आत्मघाती हमला

रुद्रपुर । रम्पुरा चौकी पुलिस के उस समय हाथ पैर फूल गए, जब स्मैक के साथ पकड़े गए युवक ने खुद पर चाकू से...
Uttarakhand Government