Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तराखंड गढ़वाल देहरादून-15 दिनों में लाइवलीहुड प्लान एवं रिफॉर्म प्लान तैयार करें अधिकारी,...

देहरादून-15 दिनों में लाइवलीहुड प्लान एवं रिफॉर्म प्लान तैयार करें अधिकारी, हर हाथ को ऐसे मिलेगा रोजगार

देहरादून-सीएम व वन मंत्री ने किया सिटी फॉरेस्ट आनंद वन का लोकार्पण, इस दिन से सैर कर सकेंगे लोग

देहरादून- आज मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और वन मंत्री डा. हरकसिंह रावत ने झाझरा वन रेंज परिसर में उत्तराखंड के सिटी फॉरेस्ट आनंद वन...

देहरादून -अब नेता उप प्रतिपक्ष कोरोना पॉजिटिव, मानसून सत्र को लेकर कांग्रेस में असमंजस

देहरादून -प्रदेश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे है। वही सत्ता दल से लेकर विपक्षी तक कोरोना से अछूते नहीं है।...

हरिद्वार -यहां अस्थाई जेल से आठ कैदी फरार, ऐसे दिया पुलिस को चकमा

हरिद्वार -जेलों से कैदियों के भागने की खबरें आती रहती है लेकिन एक साथ बड़ी मात्रा में कैदियों का भागना पुलिस प्रशासन पर सवाल...

देहरादून-आजीविका पैकेज लागू करने वाला उत्तराखंड बना पहला राज्य, अब ऐसे मनरेगा जॉब कार्ड धारक कर सकेेंगे स्वरोजगार

देहरादून- त्रिवेन्द्र सरकार ने मनरेगा में आजीविका पैकेज का मॉडल लागू करने का आदेश जारी कर दिया गया है। इस आदेश के बाद प्रदेश...

देहरादून-अगले माह से 7296 पदों के लिए शुरू होंगी भर्ती, पढिय़े पूरी डिटेल

देहरादून- मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने सचिवालय में भर्ती एजेंसियों के अधिकारियों के साथ बैठक कर भर्तियों को लेकर टाइम टेबल तय करने को कहा।...
Uttarakhand Government

देहरादून- गुरुवार को मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सचिवालय में राज्य में आजीविका की नई संभावनाओं के सबंध में अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरानमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि सभी विभाग 15 दिन में लाइवलीहुड प्लान एवं रिफॉर्म प्लान बनाकर मुख्य सचिव को अनुमोदन के लिए भेज दें। प्रदेश में विभिन्न क्षेत्रों में राजस्व बढऩे के लिए भी 10 दिन में प्लान बनाने के निर्देश दिये।


Uttarakhand Government

CM Meeting

Uttarakhand Government

सीएम त्रिवेन्द्र ने कहा कि कोविड-19 के बाद प्रदेश की आर्थिकी में सुधार लाने एवं लोगों को रोजगार से जोडऩे के लिए हमें बड़े स्तर पर प्रयास करने होंगे। लोगों की आजीविका बढ़ाने के लिए शॉर्ट, मिड एवं लॉग टर्म प्लान बनाकर कार्य करने होंगे। हमारा पहला लक्ष्य कोविड-19 की वजह से जिन लोगों की आजीविका के संसाधन प्रभावित हुए हैं, उनके लिये विशेष प्रयास किये जाये। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के साथ ही उनकी पैकेजिंग, प्रोसेसिंग एवं मार्केंटिंग की दिशा में कार्य किये जाय। उत्तराखण्ड में मेडिसनल एवं ऐरोमेटिक प्लांट की दिशा में अनेक संभावनाएं हैं। मेडिसनल एवं एरोमेटिक प्लांट पर कार्य के साथ वन विभाग एवं हॉर्टिकल्चर विभाग को फल, फूल, वनस्पति एवं बी-कीपिंग की दिशा में कार्य करने की जरूरत है।

Uttarakhand Government

सीएम ने कहा कि हमें स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के साथ ही उनकी ब्रांडिंग पर भी ध्यान देना होगा। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए होम स्टे योजना पर विशेष ध्यान दिया जाय। होम स्टे के साथ ही मेडिसनल एवं न्यूट्रेशन वेल्यू के आहारों को प्रमोट करने की जरूरत है। कृषि के क्षेत्र में क्लस्टर एप्रोच को बढ़ावा दिया जाय। कोविड की वजह से जो प्रवासी आये हैं, उनको रोजगार एवं स्वरोजगार से जोडऩे के लिए किन-किन क्षेत्रों में लोगों ने कार्य करने की अधिक इच्छा जाहिर की है, उन सेक्टरों को चिन्हित की जाय। उनकी योग्यता के अनुसार उद्योगों से भी रोजगार स्थापित करने के लिए समन्वय स्थापित किया जाय। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत अधिक से अधिक लोगों को रोजगार से जोड़ा जाय। विभिन्न योजनाओं के तहत जो लोग स्वरोजगार करना चाहते हैं, उनको लोन लेने में समस्या न हो, इसके लिए बैंकों से निरन्तर समन्वय स्थापित किया जाय।

सीएम ने कहा कि प्रदेश में लोगों की आजीविका के संसाधन बढ़ाने के लिए कृषि के साथ ही अन्य एक्टिविटी के लिए भी किसानों को प्रोत्साहित किया जाय। फार्मर सेन्ट्रिक एप्रोच पर और कार्य करने की जरूरत है। कार्यों में तेजी लाने के लिए विभागों को विभिन्न प्रकार के क्लीयरेंस की प्रक्रियाओं को आसान करना होगा। उन्होंने कहा कि कृषि एवं पर्यटन ऐसे क्षेत्र हैं, जो लोगों को त्वरित लाभ पहुंचा सकते हैं। त्योहारों एवं उत्सवों पर स्थानीय उत्पादों को अधिक बढ़ावा दिये जाने की जरूरत है।

मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने कहा कि कोविड के कारण जो लोग उत्तराखण्ड वापस आये हैं, कितने लोग यहीं रहकर कार्य करना चाहते हैं, उनकी शैक्षिक एवं अन्य योग्यताओं का विश्लेषण एवं किस-किस क्षेत्र में कार्य करना चाहते हैं, इसका सर्वे होना जरूरी है। अगले तीन माह में हम लोगों को आजीविका से कैसे जोड़ सकते हैं और विभिन्न क्षेत्रों में कार्य करने के लिए उनको प्रशिक्षण की व्यवस्थाएं करनी होंगी। केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में लोगों को आजीविका से जोडऩे के लिए अनेक योजनाएं लाई गई हैं। हमें इसके सफल क्रियान्वयन के लिए मिलकर प्रयास करने होंगे। उन्होंने कहा कि मनरेगा के तहत रजिस्टर्ड प्रत्येक गांव के लोगों की सूची को टारगेट किया जाय, उनकी आजीविका को बढ़ाने के लिए और भी प्रयासों की जरूरत है। लोगों को आत्मनिर्भर बनाने एवं आर्थिक रूप से मजबूत बनाने में हम सबको मिलकर प्रयास करने होंगे। इस अवसर पर प्रदेश में आजीविका को बढ़ाने के लिए अधिकारियों ने अपने सुझाव दिये।

 

Uttarakhand Government

Related News

देहरादून-सीएम व वन मंत्री ने किया सिटी फॉरेस्ट आनंद वन का लोकार्पण, इस दिन से सैर कर सकेंगे लोग

देहरादून- आज मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और वन मंत्री डा. हरकसिंह रावत ने झाझरा वन रेंज परिसर में उत्तराखंड के सिटी फॉरेस्ट आनंद वन...

देहरादून -अब नेता उप प्रतिपक्ष कोरोना पॉजिटिव, मानसून सत्र को लेकर कांग्रेस में असमंजस

देहरादून -प्रदेश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे है। वही सत्ता दल से लेकर विपक्षी तक कोरोना से अछूते नहीं है।...

हरिद्वार -यहां अस्थाई जेल से आठ कैदी फरार, ऐसे दिया पुलिस को चकमा

हरिद्वार -जेलों से कैदियों के भागने की खबरें आती रहती है लेकिन एक साथ बड़ी मात्रा में कैदियों का भागना पुलिस प्रशासन पर सवाल...

देहरादून-आजीविका पैकेज लागू करने वाला उत्तराखंड बना पहला राज्य, अब ऐसे मनरेगा जॉब कार्ड धारक कर सकेेंगे स्वरोजगार

देहरादून- त्रिवेन्द्र सरकार ने मनरेगा में आजीविका पैकेज का मॉडल लागू करने का आदेश जारी कर दिया गया है। इस आदेश के बाद प्रदेश...

देहरादून-अगले माह से 7296 पदों के लिए शुरू होंगी भर्ती, पढिय़े पूरी डिटेल

देहरादून- मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने सचिवालय में भर्ती एजेंसियों के अधिकारियों के साथ बैठक कर भर्तियों को लेकर टाइम टेबल तय करने को कहा।...

देहरादून-सीएम ने किया एग्री बिजनेस ग्रोथ सेंटर का लोकार्पण, स्वरोजगार को लेकर युवाओं से कही ये बात

देहरादून-आज मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने थानों में जलागम प्रबंधन विभाग द्वारा संचालित ग्राम्या-2 परियोजना अन्तर्गत स्थापित एग्री बिजनेस ग्रोथ सेंटर का लोकार्पण किया।...
Uttarakhand Government